एनसीएल भर्ती परीक्षा में फर्जीवाडे़ का आरोपी चढ़ा मोरवा पुलिस के हत्थे

10 साल से फरार मारपीट का वारंटी भी गिरफ्तार

सिंगरौली। मोरवा पुलिस ने पुलिस अधीक्षक बीरेंद्र कुमार सिंह द्वारा चलाये जा रहे अभियान के तहत 2 को गिरफ्तार किया है। इसमें से एक एनसीएल भर्ती मामले में फर्जीवाड़े का आरोपी है जिसे डॉक्यूमेंट वेरीफिकेशन के दौरान पकड़ा गया। इसके अलावा 10 वर्ष पुराने मारपीट के प्रकरण में फरार वारंटी को भी मोरवा पुलिस ने गिरफ्तार किया है।

फर्जी अभ्यर्थी ने दी थी लिखित परीक्षा

बीते वर्ष 29 नवंबर को एनसीएल में एचईएमएम ऑपरेटर के रिक्त पदों के लिए परीक्षा हुई थी जिसमें आरोपी परीक्षार्थी जयप्रकाश कुशवाहा पिता स्व. रमाशंकर कुशवाहा उम्र 30 वर्ष निवासी सा. सरसवाहराजा थाना बरगवां ने लिखित परीक्षा में अपने स्थान पर किसी अन्य को बैठाया था। इस परीक्षा में वह 76 अंकों के साथ उत्तीर्ण हुआ था। दिनांक 13 मार्च 2021 को एनसीएल मुख्यालय में डॉक्यूमेंट वेरीफिकेशन के लिए बुलाया गया था। यहां फोटो मिलान न होने से पकड़ा गया और एनसीएल के अधिकारियों ने उसे मोरवा पुलिस के हवाले कर दिया।

पूछताछ में कबूला अपराध

संदिग्ध युवक ने सख्ती से पूछताछ के दौरान अपना अपराध कबूल कर लिया। कबूलनामे के बाद थाना मोरवा में आरोपी के खिलाफ अपराध क्रमांक 178/2021 धारा 419 420 467 468 ता.हि. का दर्ज कर सोमवार को गिरफ्तार कर लिया गया था। मंगलवार को मा. न्यायालय बैढन पेश किया गया।

फरार वारंटी पकड़ाया

आज फरार वारंटी सुखराम पिता बुधराम खैरवार निवासी अजगुढ को बगैया थाना चितरंगी से गिरफ्तार किया गया। यह धारा 325 भा.द.वि. का आरोपी है। इसे गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया गया।

कार्रवाई दल

उक्त गिरफ्तारी में उप निरीक्षक सरनाम सिह बघेल, सउनि साहबलाल सिंह, प्र आ संतोष सिंह चन्देल, संजय सिहं परिहार, विजय बहादुर सिहं, आ. सुबोध सिंह तोमर, म.आर.पूजा त्रिपाठी, सैनिक कुन्जराज सिंह चौहान शामिल थे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button