हिंडालको बरगवां से पुणे के लिए भेजी गईं 75 लाख मूल्य की एल्युमिनियम सिल्लियां कबाड़ी के गोदाम से बरामद

बरगवां पुलिस ने आरोपी ट्रक मालिक चालक व कबाड़ी को पकड़ा, गए जेल

सिंगरौली। बरगवां स्थित हिंडालको महान प्लांट से बीते 9 जून को पुणे के लिए भेजे जा रहे ₹ 75 लाख मूल्य के एल्युमिनियम इनगॉट की चोरी के मामले में सिंगरौली जिले की बरगवां पुलिस ने छत्तीसगढ़ के मनेन्द्रगढ़ से तीन आरोपियों को माल सहित गिरफ्तार कर लिया है। बरगवां से रवानगी के 6 दिन बाद भी जब अल्युमिनियम सिल्लियों से लदा ट्रक जब पुणे नहीं पहुंचा और ट्रक का लोकेशन भी ट्रेस नहीं हो पा रहा था, तब ट्रांसपोर्ट एजेंसी की शिकायत पर बरगवां पुलिस तत्परता से हरकत में आई और उसे सफलता मिली। सिंगरौली पुलिस की इस कार्यवाही से कोरिया छत्तीसगढ़ के कबाड़ माफियाओं में भी हड़कंप मच गया है।

घटना के विषय में

प्राप्त जानकारी के अनुसार बीते 9 जून को हिंडालको महान अल्युमिनियम प्लांट बरगवां से वेस्टर्न मेटल इंडस्ट्रीज पुणे के लिए 30 टन 62 किलोग्राम एल्युमिनियम की सिल्लियां (इनगॉट) जिसका मूल्य ₹ 75 लाख रुपए है, उसे ट्रक के द्वारा रवाना किया गया था। बताया गया है कि बरगवां प्लांट से अमूमन चार दिन में ट्रक पुणे पहुंच जाते हैं। लेकिन 6 दिन बाद भी पार्टी को माल नहीं मिला तो उसने इसकी शिकायत हिन्डाल्को के जवाबदेह अधिकारी से की। तब कंपनी को ट्रांसपोर्ट सेवा दे रही एजेंसी को तलब किया गया और उसने संबंधित ट्रक के लापता होने की जानकारी दी।

इस मामले में चिंता तब हुई जब ट्रक का लोकेशन मिलना बंद हो गया। इसके बाद हिंडालको में कार्यरत इंडो आर्य सेंट्रल ट्रांसपोर्ट के ट्रैफिक इंचार्ज ने बरगवां थाने में तहरीर दी। जिसमें उन्होंने बताया कि बीते 6 दिनों से पुणे के लिए निकला ट्रक क्रमांक यूपी 44 एटी 4204 वहां पहुंचा ही नहीं है।

पुलिस ने की त्वरित कार्यवाही

इस मामले में बरगवां पुलिस ने यदि तत्परता नहीं दिखाई होती तो संभव है कि अल्युमिनियम की सिल्लियों को कहीं भेजकर उन्हें गलवा दिया जाता। भारी मात्रा में एल्युमिनियम की चोरी का शक जाहिर होने पर सिंगरौली पुलिस अधीक्षक बीरेंद्र कुमार सिंह के निर्देशन में अज्ञात लोगों के विरुद्ध मामला पंजीबद्ध कर त्वरित विवेचना शुरू की गई। एसडीओपी राजीव पाठक के मार्गदर्शन में बरगवां निरीक्षक नागेंद्र प्रताप सिंह ने एक टीम गठित कर ट्रक के तलाश में उसे रवाना कर दिया। पुलिस टीम ट्रक के अंतिम लोकेशन के आधार पर छत्तीसगढ़ के कोरिया जिले के मनेंद्रगढ़ पहुंची। जहां एक अज्ञात कबाड़ व्यवसायी के गोदाम से पुलिस ने चोरी गये एल्युमिनियम की सिल्लियों को बरामद करने के साथ ही इस मामले में आरोपियों को धर दबोचा।

आरोपी व पुलिस कार्यवाही

पुलिस ने इस मामले में आरोपी संदीप सिंह पिता कृष्णा शंकर उम्र 32 वर्ष, सुभाष चंद्र पांडे पिता रामअजीज पांडे उम्र 52 वर्ष एवं लालसिंह पिता कृष्णचंद्र बसेरा को गिरफ्तार किया है। इन लोगों ने बड़ी साजिश के तहत ₹ 75 लाख के एल्युमिनियम सिल्लियों को मात्र 25 लाख रुपए में बेच दिया था। पुलिस ने अपराध क्रमांक 303/2021 धारा 407, 409, 34 आईपीसी के तहत तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर जिला न्यायालय में पेश किया जहाँ से उन्हें न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है।

इनकी रही भूमिका
उक्त कार्यवाही में निरीक्षक नागेंद्र प्रताप सिंह की अगुवाई में सहायक उप निरीक्षक अनिल मिश्रा, प्रधान आरक्षक संगीत सिंह, रमेश, राजकुमार त्रिपाठी, आरक्षक विवेक सिंह एवं नरेंद्र यादव की भूमिका सराहनीय रही।

Rohit Gupta

A journalist, writer, thinker, poet and social worker.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button