आरोप: खबर से नाराज सीएमएचओ ने पत्रकार को फंसाने की रची साजिश

सीएमएचओ के विरोध में शिवसेना उतरी सड़क पर, मुख्यमंत्री के नाम कलेक्टर को सौंपा ज्ञापन

सिंगरौली/सीधी।
स्वास्थ्य व्यवस्था की अनियमितताओं की खुलती पोल से नाराज सीएमएचओ ने स्टाफ नर्स के साथ मिलकर पत्रकार को ही फंसाने की साजिश रच डाली। सीएमएचओ डॉ. बीएल मिश्रा के विरोध में शिवसेना सड़क पर उतर आई है। शिवसेना की सीधी यूनिट ने पत्रकार के ऊपर फर्जी मामले दर्ज कराने के विरोध में मुख्यमंत्री के नाम कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा है।

स्वास्थ्य विभाग की पोल खोलता रहा पत्रकार

शिवसेना जिला अध्यक्ष विवेक पांडे ने मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपते हुए कहा है कि स्वास्थ्य विभाग के भ्रष्ट सिस्टम की पोल आए दिन अरुण गुप्ता द्वारा अपनी खबरों के माध्यम से खोली जाती रही है। कोविड के दौरान स्वास्थ्य विभाग द्वारा राजेश गुप्ता नामक व्यक्ति की बनाई गई गलत रिपोर्ट को उजागर किया था। जिसके बाद राजेश गुप्ता का कोविड उपचार हो सका था। वहीं जिला अस्पताल की डीसीएस की इंचार्ज स्टाफ नर्स जयललिता सिंह ने कोरोना पॉजिटिव मरीज शर्मिला तिवारी को डॉ. अविनाश जान के द्वारा शाम 5 बजे रेमडेसिविर इंजेक्शन लगाने के लिए लिखा गया था। लेकिन स्टाफ नर्स ने इंजेक्शन मरीज को न देकर रेमडेसिविर इंजेक्शन को अपने घर ले जाकर अवैध रूप से रखा था। इस मामले को भी पत्रकार अरुण गुप्ता ने उजागर कर खबर प्रकाशित किया तथा बरती गई लापरवाही को अरुण गुप्ता ने उच्चाधिकारियों को भी अवगत कराया था।

शिवसेना जिलाध्यक्ष का कहना..

शिवसेना जिलाध्यक्ष ने कहा कि इन्हीं सब बातों को लेकर नाराज मुख्य जिला चिकित्सा अधिकारी द्वारा इस मामले का विरोध भी किया गया जिसको लेकर आज कूट रचित षड्यंत्र रचते हुए उनके द्वारा पत्रकार अरुण गुप्ता के ऊपर शासन का नाजायज फायदा उठाते हुए फर्जी मामला दर्ज कराने की कोशिश की जा रही है। एक ईमानदार पत्रकार की आवाज को दबाने की कोशिश की जा रही है, जो जनहित के मुद्दों को अक्सर उठाते रहते हैं। पत्रकार अरुण गुप्ता के ऊपर फर्जी मामले को लेकर शिवसेना कड़ा विरोध करती है एवं निष्पक्ष रुप से जांच कर फर्जी मामला दर्ज कराने वाले अधिकारी एवं स्वास्थ्य विभाग में भ्रष्ट अधिकारियों के ऊपर कड़ी कार्यवाही की मांग करती है। शिव सेना जिला अध्यक्ष विवेक पांडे ने कहा कि मीडिया बंधुओं के माध्यम से जनहित की आवाज उठाने वाले पत्रकारों के खिलाफ किसी भी प्रकार से फर्जी मामला दर्ज किया जाता है तो शिवसेना शांत नहीं बैठेगी और चक्काजाम आंदोलन किया जाएगा जिसकी जिम्मेदारी प्रशासन की होगी।

इनकी रही उपस्थिति

इस मामले को लेकर ज्ञापन सौंपने के समय संभागीय सचिव अशोक गुप्ता, जिला उपाध्यक्ष संत कुमार केवट, विधानसभा प्रभारी प्रदीप विश्वकर्मा, नगर उपाध्यक्ष मोनू मिश्रा, नगर संपर्क प्रमुख राजन मिश्रा सहित कई शिव सैनिक उपस्थित रहे।

Rohit Gupta

A journalist, writer, thinker, poet and social worker.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button