पॉजिटिव स्टोरी: अन्न उत्सव के आयोजन से उत्साहित हैं हितग्राही-विक्रेता

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के अंतर्गत आयोजित किया जा रहा है अन्न उत्सव कार्यक्रम

सिंगरौली/सीधी। मध्यप्रदेश के सभी जिलों के शहरी तथा ग्रामीण क्षेत्र की सभी उचित मूल्य दुकानों में कल 7 अगस्त को अन्न उत्सव कार्यक्रम आयोजित किया जा रहा है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह की मंशा के अनुरूप प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना से पात्र राशनकार्ड धारियों को नि:शुल्क खाद्यान्न का वितरण किया जा रहा है। सभी उचित मूल्य दुकानों में इसके लिये तैयारियां की जा रही हैं। नि:शुल्क खाद्यान्न वितरण के लिये विक्रेताओं में भी विशेष उत्साह है जो एक पॉजिटिव स्टोरी को जन्म दे रही है।

हितग्राहियों को भेजा गया है आमंत्रण पत्र

जनपद पंचायत सीधी अंतर्गत शासकीय उचित मूल्य दुकान नौगवां दर्शनसिंह के विक्रेता वीरेंद्र सिंह ने बताया कि दुकान में 302 से अधिक राशनकार्ड धारियों को हर माह खाद्यान्न वितरित किया जा रहा है, जिसमें 46 अंत्योदय परिवार तथा 256 प्राथमिक परिवार हैं। अन्न उत्सव में 50 हितग्राहियों को 10 किलोग्राम के बैग में खाद्यान्न दिया जायेगा। इन सभी हितग्राहियों को खाद्यान्न प्राप्त करने तथा 7 अगस्त को आयोजित अन्न उत्सव में भागीदारी निभाने के लिये आमंत्रण पत्र दिया गया है।

कोरोना काल में जीवन रक्षक बनी अन्न योजना

विक्रेता श्री सिंह ने बताया कि अन्न उत्सव कार्यक्रम को लेकर हितग्राहियों में विशेष उत्साह है। कोरोना संकट के समय में प्रदेश सरकार द्वारा माह अप्रैल से जून 2021 तक का खाद्यान्न निःशुल्क प्रदाय किया गया है। इसके साथ ही माह मई 2021 से प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना अंतर्गत प्रत्येक सदस्य को 5 किलोग्राम के मान से निःशुल्क खाद्यान्न प्रदाय किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि कोरोना संकटकाल में कई वृद्ध और दिव्यांग हितग्राहियों को उनके घर तक खाद्यान्न पहुंचाया गया। खाद्यान्न वितरण को लेकर हितग्राही संतुष्ट और प्रसन्न हैं।

निःशुल्क खाद्यान्न वितरण ने कोरोना संकट के समय दिया सहारा

कोरोना महामारी के संकट ने गरीब परिवारों के लिए समस्याओं का पहाड़ खड़ा कर दिया था। संक्रमण को रोकने के लिए सरकार द्वारा कई तरह के प्रतिबंध लगाए गए थे। मजदूरी कर जीवन यापन करने वालों के सामने आजीविका का संकट था। ऐसे समय में एक ओर राज्य शासन द्वारा कोविड प्रोटोकॉल का पालन करते हुए ग्राम पंचायतों में महात्मा गांधी नरेगा अंतर्गत कार्य प्रारंभ कर स्थानीय स्तर पर ही रोजगार के अवसर उपलब्ध कराए गए, उसके साथ ही माह अप्रैल से जून 2021 तक पात्रतानुसार निःशुल्क खाद्यान्न का वितरण किया गया। इसके साथ ही प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना अंतर्गत माह मई 2021 प्रति सदस्य प्रति माह 5 किलोग्राम खाद्यान्न का निःशुल्क वितरण किया जा रहा है।

हितग्राही का कहना

हितग्राही

सीधी जिले के ग्राम सोनवर्षा के लल्लू रजक बताते हैं कि काम के दौरान ही एक दुर्घटना में उनके दाएं हाथ का अंगूठा कट गया है। तब से वह मजदूरी करके ही अपना जीवन यापन करते हैं। उनकी आजीविका का मुख्य सहारा मजदूरी ही है। उन्होंने बताया कि कोरोना महामारी के दौर में काम धंधे बंद होने के कारण समस्या बढ़ गई थी। ऐसे समय में प्रधानमंत्री जी एवं मुख्यमंत्री जी द्वारा हम गरीबों को निःशुल्क राशन का वितरण कर राहत प्रदान की गई है। उन्होंने कहा कि उनके पास अन्त्योदय कार्ड है जिससे उक्त योजनाओं से उन्हें प्रतिमाह 40 किलोग्राम निःशुल्क खाद्यान्न प्राप्त हो रहा है। इससे उनके जैसे गरीब परिवारों को राहत हुई है। लल्लू रजक ने बताया कि उन्हें प्रतिमाह 600 रुपए सामाजिक सुरक्षा पेंशन का भी लाभ प्राप्त हो रहा है। लल्लू रजक ने गरीबों के लिए नित नए कार्यक्रमों के क्रियान्वयन के लिए प्रधानमंत्री जी एवं मुख्यमंत्री जी का आभार व्यक्त किया है।

Rohit Gupta

A journalist, writer, thinker, poet and social worker.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button