ज्योतिरादित्य की सुरक्षा में हुई बड़ी चूक

 

मुरैना व ग्वालियर के दर्जन भर पुलिस कर्मी निलंबित

मध्यप्रदेश। भाजपा के राज्यसभा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया की सुरक्षा में भारी चूक हो गई। यह खामी तब हुई जब उनके वाहन को एस्कोर्ट कर रहा पुलिस कर्मियों का पायलट वाहन भटक गया और सिंधिया को लगभग 8 कि.मी. बिना सुरक्षा के चलना पड़ा। ज्योतिरादित्य सिंधिया को जेड श्रेणी की सुरक्षा प्रदान की गई है।

दिल्ली से सड़क मार्ग से आ रहे थे ग्वालियर

प्राप्त जानकारी के अनुसार वे दिल्ली से सड़क मार्ग से ग्वालियर आ रहे थे। बीते शाम मुरैना जिले की पायलट उन्हें फॉलो करती हुई ग्वालियर की तरफ बढ़ रही थी। बताते हैं कि निरावली के पास मुरैना ग्वालियर बॉर्डर पर ग्वालियर की पायलट गाड़ी को सांसद सिंधिया को फॉलो करते हुए जय विलास पैलेस ले जाना था। पायलट वाहन में सवार पुलिसकर्मियों को कुछ गलतफहमी हो गई और वे सिंधिया के वाहन के जगह वहां से गुजरने वाली उसी कलर की दूसरी गाड़ी को फॉलो करने लगे। कुछ दूर चलने के बाद पुलिसकर्मियों को गलत गाड़ी को फॉलो करने का जब एहसास हुआ तो उनके होश उड़ गए।

हजीरा थाने की पुलिस ने की पायलटिंग

बताया जाता है कि जब उन्हें गलती का एहसास हुआ तब तक सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया की गाड़ी काफी आगे निकल गई थी। लगभग 8 किलोमीटर बिना पायलट वाहन के राज्यसभा सांसद सिंधिया का वाहन चलता रहा। ज्योतिरादित्य सिंधिया का काफिला जब हजीरा थाने से गुजरा तब सुरक्षा में हुई लापरवाही का पता चला। उसके बाद हजीरा थाने की पुलिस ने सिंधिया को जयविलास पैलेस तक फॉलो करते हुए सुरक्षित छोड़ा। सुरक्षा में ऐसी चूक मुरैना और ग्वालियर की फॉलो टीमों में आपसी तालमेल की कमी के कारण हुई। इसलिए मुरैना के 9 और ग्वालियर के 5 पुलिसकर्मियों को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है।

Rohit Gupta

A journalist, writer, thinker, poet and social worker.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button