योग से निरोग का अभियान चलेगा- सीएम शिवराज

मुख्यमंत्री ने नगरीय क्षेत्र के जन-प्रतिनिधियों को किया संबोधित

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने नगरीय निकायों के जन-प्रतिनिधियों से कोरोना चेन को तोड़ने में सहयोग का आह्वान करते हुए कहा कि शीघ्र ही योग से निरोग का अभियान शुरू किया जाएगा, जिसमें प्रत्येक 10 पॉजिटिव मरीजों पर एक योग ट्रेनर फोन से योग कराएगा, डाइट और मनोबल बढ़ाने का परामर्श भी देगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान वर्चुअली नगरीय क्षेत्रों के जन-प्रतिनिधियों को कोविड-19 की रोकथाम के संबंध में मुख्यमंत्री निवास से संबोधित कर रहे थे। वीडियो कॉन्फ्रेंस में क्षेत्रीय सांसद और विधायक भी शामिल हुए।

पॉजिटिव मरीजों को मिले मेडिकल किट

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने नगरीय निकायों के जन-प्रतिनिधियों से कहा कि कोरोना संक्रमण श्रृंखला को तोड़ने के प्रयासों में सहयोग करें। उन्होंने कहा कि प्रदेश में 25 हजार कोरोना संक्रमित हैं। जबकि 7 करोड़ 99 लाख 15 हजार स्वस्थ हैं। यह हम सबकी जिम्मेदारी है कि उनको संक्रमण से बचाएँ, जो स्वस्थ हैं, स्वस्थ रहें और घर पर रहें। उन्होंने जन-प्रतिनिधियों से कहा कि होम आयसोलेशन में रोगियों के साथ दूरभाष पर संपर्क करें, कोविड केयर सेंटर की व्यवस्थाओं की समीक्षा करें, सभी पॉजिटिव मरीजों को मेडिकल किट का वितरण हो यह सुनिश्चित करें। जहाँ भी सर्दी, जुकाम, बुखार के प्रकरण की सूचना मिले तत्काल उनकी जाँच कराएँ और जाँच के साथ ही उन्हें मेडिकल किट भी प्रदाय की जाए, इसकी व्यवस्था करें। मेडिकल किट के साइड इफेक्ट नहीं होते हैं और यह संक्रमण को फैलने नहीं देता है। उन्होंने कहा कि पॉजिटिव मरीज होम आयसोलेशन में रहें। घर में व्यवस्थाएँ नहीं होने पर, उन्हें कोविड सेंटर में रखा जाए।

जन-प्रतिनिधि टीकाकरण के लिए भी करें प्रेरित

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि कोरोना कर्फ्यू में 30 अप्रैल तक कोई अनावश्यक रूप से घर से बाहर नहीं निकले और वैक्सीनेशन का कार्य तीव्र गति से हो। इसके लिए अधिक से अधिक लोगों को टीकाकरण के लिए प्रेरित करें। उन्होंने कहा कि यह वैज्ञानिक रूप से सिद्ध हुआ है कि दो टीके लगने वाले 99 प्रतिशत लोग संक्रमित नहीं हुए हैं। ऐसा रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ने से हुआ है। इसलिए टीकाकरण के कार्य को व्यापक स्तर पर संचालित कराएँ। आगामी एक मई से 18 वर्ष से अधिक आयु वर्ग का नि:शुल्क टीकाकरण होगा। इसके लिए अपने-अपने क्षेत्र में व्यापक टीकाकरण की योजना बना लें।

स्ट्रीट वेण्डरों के खातों में जमा किए एक-एक हजार

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि स्ट्रीट वेण्डर और फुटपाथ विक्रेताओं की आजीविका की सुरक्षा के लिए एक-एक हजार रूपए उनके खातों में तत्काल जमा कराए गए हैं। उनको तीन माह तक नि:शुल्क राशन प्रदान किया जाएगा। उन्होंने अपील करते हुए कहा कि स्ट्रीट वेण्डर अपनी सेहत का ध्यान रखें। उनकी जरूरतों को सरकार पूरा करेगी। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रवासी श्रमिकों के लिए भोजन इत्यादि की व्यवस्थाएँ दीनदयाल रसोई योजना से की जाएगी। उन्होंने सैनेटाइजेशन और स्वच्छता के प्रयासों पर भी विशेष बल दिया।

काढ़ा वितरण का भी चलेगा अभियान

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि कोरोना को समाप्त करने के लिए उसकी जड़ों पर प्रहार करना होगा। उन्होंने कहा कि शीघ्र ही काढ़ा वितरण का भी अभियान चलाया जाएगा। रोग-प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने वाली चीजों के संबंध में जानकारी और उनके वितरण को जन-व्यापी बनाया जाना जरूरी है। उपचार की व्यवस्थाओं के साथ ही संक्रमण फैलने नहीं पाए इसके लिए सरकार और समाज को मिलकर कार्य करने होंगे।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कई मोहल्ला समितियों द्वारा 30 अप्रैल तक बाहर नहीं निकलने के निर्णय की सराहना करते हुए कहा कि कोरोना कर्फ्यू जनता का, जनता के लिए और जनता के द्वारा किया जाने वाला प्रभावी कार्य है। क्योंकि कोरोना से लड़ाई घर से बाहर निकलकर नहीं घर में रहकर ही लड़ी जा सकती है। उन्होंने कहा कि जनता कर्फ्यू के साथ अन्य व्यवस्थाओं से संक्रमितों की संख्या स्थिर हुई है और शीघ्र ही हम उसे और कम करने में सफल होंगे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button