सैकडों एकड़ जमीन की हेराफेरी करने वाले पटवारी के विरुद्ध आपराधिक प्रकरण दर्ज

मामला कुसमी तहसील के हैकी और डुहकुरिया गांव का

सिंगरौली/सीधी। मध्यप्रदेश के सीधी जिले के कुसमी उपखंड के एसडीएम आरके सिन्हा ने पटवारी सत्यनाराण मिश्रा के खिलाफ सैकडों एकड जमीन के रिकॉर्ड में हेरफेरी करने के मामले में कुसमी थाने में एफआईआर पंजीबद्ध करवाया है।

कुसमी थाने में दर्ज एफआईआर के मुताविक फरियादी आरके सिन्हा अनुविभागीय अधिकारी राजस्व कुसमी जिला सीधी के पत्र क्रमांक 1808 प्रवा/2021 कुसमी दिनांक 04/03/2021 में आरोपी तत्कालीन पटवारी सत्यनारायण मिश्रा पिता लल्लूराम मिश्रा निवासी ग्राम पहाड़ी तहसील सिहावल जिला सीधी हाल निवास ग्राम हैकी थाना कुसमी तहसील कुसमी के विरुद्ध प्रथम दृष्टया अपराध धारा 420, 467, 468 भादवि का पाए जाने से कुसमी थाने में अपराध कायम कर विवेचना में लिया गया है।

पटवारी ने पैसों के लिए शासकीय भूमि को बेचा

उल्लेखनीय है कि एफआईआर के आरोपी पटवारी पर आरोप है कि उसने वो भूमि जो पूर्व में मध्यप्रदेश शासन की थी जो उस हल्के में तब तत्कालीन पटवारी रहे श्री मिश्र द्वारा कूट रचित ढंग से प्राइवेट व्यक्तियों के नाम आवंटित कर दी गई थी। जिसमें बंदरबांट किया गया और शासन की बेशकीमती भूमि को क्रय विक्रय कर अवैध लाभ अर्जित किया गया। इससे उक्त भूमियों को मध्यप्रदेश शासन अभिलंब दर्ज किए जाने का आदेश तहसीलदार कुसमी को दिया गया है।

तहसीलदार कुसमी द्वारा उक्त भूमियों को मध्यप्रदेश शासन दर्ज किया गया है। सत्यनारायण मिश्रा तत्कालीन पटवारी द्वारा उपरोक्त भूमियों को बिना किसी आदेश के खसरे में प्रविष्ट कर अवैध लाभ अर्जित कर राजस्व अभिलेख में कूट रचना की है। अतः उक्त कृत्य के लिए वह दोषी है और न्यायालय द्वारा प्रथम दृष्टया कूट रचित रचना किया जाना पाया गया है जिससे तत्कालीन पटवारी सत्यनारायण मिश्रा व अन्य के विरुद्ध भारतीय दंड विधान की संगत धाराओं में अपराध दर्ज किया गया है। बताया जा रहा है कि पटवारी ने 135 लोगों के नाम पट्टा किया था।

Rohit Gupta

A journalist, writer, thinker, poet and social worker.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button