लगातार बारिश से पानी पानी हुआ ऊर्जाधानी का जनजीवन

कई पुल पुलिया जलमग्न, ननि वैढ़न जोन के कई घरों में घुसा बरसाती पानी, वार्ड नं. 41 गनियारी की हालत बद्तर

 

सिंगरौली, मध्यप्रदेश। गत शनिवार से रविवार की दोपहर तक 12 घण्टे से अधिक समय तक रुक-रुककर लगातार हुई बारिश से प्रदेश के ऊर्जाधानी सिंगरौली जिले के निचले इलाकों में जलजमाव की समस्या उत्पन्न हो गई है। ताल तालैया यहाँ तक कि खेत लबालब भर गये हैं। नगर निगम के कुछ वार्ड के घरों में बरसात का पानी घुस गया है। सड़कें जलमग्न हो गई हैं। बंधौरा, खुटार पुलिस चौकी क्षेत्र के साथ ही माड़ा चितरंगी गढ़वा सरई आदि थाना क्षेत्र के कई बारहमासी नाले व नदियां उफान पर हैं। कुछ पुल पुलिया जलमग्न हो गए हैं तो कुछ ध्वस्त भी हो गए हैं जिससे सामान्य जनजीवन पर विपरीत प्रभाव पड़ा है।

विज्ञापन/मायाराम महाविद्यालय में प्रवेश हेतु करें ऑनलाइन आवेदन

सोमवार को भी बरसते रहे मेघ

शनिवार की देर शाम से शुरू हुई सावन की फुहारों ने थम थमकर मूसलाधार वर्षा भी की। शुरूआती दो घण्टे तक हुई भारी बारिश ने वैढ़न के शहरवासियों को सहमा दिया था। शहरी क्षेत्र की नालियां उफनने लगीं और सड़क का पानी घरों में घुसने लगा। कुछ घंटों की बारिश में ही वैढ़न के कई वार्डों की स्थिति बद् से बद्तर होने लगी। रविवार को सुबह 11 बजे से लेकर दोपहर तक हालत फिर वैसी ही हो गई।

विकट रही विश्वकर्मा मोहल्ला व बस्ती के मुख्य मार्ग की स्थिति

इस मूसलाधार बारिश से सबसे विकट स्थिति वार्ड नं.41 गनियारी के विश्वकर्मा मोहल्ला व बस्ती के मुख्य मार्ग की रही। यहां के रहवासियों ने बताया कि सड़क पर 2 फीट लगभग घुटने तक पानी बह रहा था। जिसके चलते आवागमन ठप्प और जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। लोगों का आरोप है कि ननि का सफाई अमले ने इन नालियों की सुध नहीं ली जिससे इस समस्या ने जन्म ले लिया। उधर गनियारी के एलआईजी आवासीय कॉलोनी में भाजपा नेता संजय ताम्रकार के घर के पास वाली लेन में कई घरों में पानी घुसने से सामग्रियों को नुकसान हुआ है। यह घटना शनिवार-रविवार की रात की है जबकि आज सोमवार को भी घने बादल छाए हुए हैं और रुक रुककर हल्की से भारी बारिश हो रही है।

अंतर्राज्यीय बस स्टैण्ड की स्थिति भी खराब

वार्ड नं 40 में स्थित अंतर्राज्यीय बस स्टैण्ड की स्थिति भी अच्छी नहीं थी। बीती रात पूरा बस स्टैण्ड परिसर जलमग्न रहा था। यहाँ यात्रियों को बसों पर सवार होने के लिए पानी में चलकर बसों तक जाना पड़ा। हालांकि हो रही मानसूनी बारिश ने किसानों के चेहरे पर खुशी ला दी है तो वहीं ज्यादा बारिश होने से उन्हें नुकसान की भी आशंका बनी हुई है।

बैगा बस्ती के एक कच्चे मकान की दीवार ढही, बच्ची दबी

वार्ड नं.21 सीएमपीडीआई कॉलोनी के समीप बैगा बस्ती में एक मकान की दीवार गिरने से बच्ची घायल हो गयी। घायल बालिका को आनन-आनन में नवानगर पुलिस के द्वारा उपचार के लिए नेहरू चिकित्सालय में भर्ती कराया गया है। मौसम विभाग की संभावनाओं के अनुसार बारिश का क्रम एक सप्ताह से भी अधिक समय तक इसी प्रकार चलता रह सकता है।

करहिया नाला उफनाया, मार्ग अवरुद्ध

 

 

खुटार पुलिस चौकी के समीपस्थ करहिया नाला भी उफान पर है। यहां रह रहकर आवागमन प्रभावित हो रहा है। मौके पर पुलिस ने खतरे के निशान से ऊपर बह रहे नाला से को पार करने के लिए रोक लगा दिया है। पुलिस को अंदेशा है कि एक बार फिर से करहिया नाला की पुलिया बह सकती है। ज्ञात हो कि जुलाई के प्रथम सप्ताह में भीषण बारिश से करहिया नाला की पुलिया ध्वस्त हो गई थी जिसके कारण दो दिनों तक परसौना-रजमिलान-सरई मार्ग पर आवागमन पूरी तरह से ठप्प हो गया था। फिलहाल उक्त नाला बाढ़ से ग्रसित हो गया है।

अमिलिया रपटा के तेज धार में बहने लगा एक युवक

अमिलिया घाटी के नीचे रपटा भी उफान पर आ गया। यहां एक युवक जान जोखिम में डालकर रपटा को पार कर रहा था तभी पानी के तेज बहाव में फंस गया। तो वहीं दोनों ओर वाहनों की लंबी कतारें लग गयी थीं। रपटा में पानी खतरे के निशान से करीब 3 फीट ऊपर से बहने की सूचना पर बंधौरा चौकी प्रभारी प्रियंका मिश्रा पुलिस बल के साथ वहाँ पहुंचीं और रपटे के बीच धार में फंसे युवक को पुलिस कर्मियों ने अपनी जान को जोखिम में डालकर रपटे के तेज बहाव से युवक को सुरक्षित बाहर निकाला।

पानी की धारा से निकलते ही भाग खड़ा हुआ युवक

गहरे और तेज पानी की धारा में फंसे युवक को पुलिस के जवानों ने जैसे ही बाहर निकाला वह ताबड़तोड़ वहाँ से भाग खड़ा हुआ। चौकी प्रभारी ने सबको हिदायत दिया है कि जब तक पानी खतरे के निशान से ऊपर बहता रहेगा तब तक किसी को आने जाने की अनुमति नहीं दी जायेगी।

Rohit Gupta

A journalist, writer, thinker, poet and social worker.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button