कोरोना संक्रमण से मृत कर्मचारियों के वारिस को अनुकंपा नियुक्ति दें औद्योगिक संस्थान-कलेक्टर

सिंगरौली कलेक्टर मीणा ने कॉरपोरेट्स को संवेदनशीलता दिखाने का दिया सुझाव

सिंगरौली, मध्यप्रदेश। प्रदेश सरकार के मंशानुसार कलेक्टर राजीव रंजन मीणा ने जिले में कार्यरत हिन्डालको, एस्सार, जे.पी पावर निगरी व कोल ब्लॉक मझौली, रिलायंस पावर व रिलायंस कोल ब्लॉक अमलोरी, के.पी.एम.जी.सी परियोजना सहित निजी क्षेत्र के औद्योगिक ईकाइयों के स्थानीय प्रबंधन, आउटसोर्सिंग ओबी कम्पनियों के साथ ही एनसीएल प्रबंधन को पत्र जारी कर कहा है कि कोविड-19 के संक्रमण से कार्यरत जिन कर्मियों की मृत्यु हुई है। कोविड संक्रमण के कारण उनके घर के कमाऊ सदस्य की असमय मृत्यु हो जाने से उस परिवार के सामने भरण पोषण की समस्या उत्पन्न हो गई है। उनके परिवारों की सहायता हेतु मध्यप्रदेश शासन द्वारा समस्त नियमित, स्थाई कर्मी, कार्य भारित एवं आकस्मिकता से वेतन पाने वाले दैनिक वेतन भोगी, तदर्थ, संविदा, कलेक्टर दर आउट सोर्स, मानदेय के रूप में कार्यरत शासकीय सेवक, इन सभी दिवंगत सेवायुक्तों के लिए मुख्यमंत्री कोविड-19 अनुकम्पा नियुक्ति योजना लागू की गई है।

कलेक्टर मीणा ने परियोजनाओं में कार्यरत कर्मचारियों- कुशल, अकुशल श्रमिकों एवं दैनिक वेतन भोगी मजदूरों की कोविड-19 के संक्रमण से असमय मृत्यु के परिणामस्वरूप उनके परिवार में उत्पन्न जीवन यापन की गंभीर समस्या से उबारने हेतु इनके प्रकरणों में मानवीय दृष्टिकोण अपनाने एवं मृतक कर्मियों के कम से कम एक विधिक वारिस को परियोजनाओं में योग्यतानुसार नियुक्ति प्रदान किये जाने के लिए सहानुभूतिपूर्वक विचार करने के लिए अपने पत्र में कहा है।

Rohit Gupta

A journalist, writer, thinker, poet and social worker.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button