दूसरे प्रदेशों से सिंगरौली आने वाले व्यक्तियों को दिखानी होगी आरटी.पीसीआर जांच रिपोर्ट- कलेक्टर

सिंगरौली। अब किसी भी अन्य राज्य से सिंगरौली आने वाले लोगों को 72 घंटे के भीतर की आरटीपीसीआर जांच रपट साथ रखना होगा। यह निर्देश कलेक्टर राजीव रंजन मीना ने दिये हैं। जिले में शत प्रतिशत टीकाकरण कराये जाने एवं कोविड गाईड लाईन के नियमों का पालन कराने हेतु शुक्रवार को कलेक्ट्रेट सभागार में हुई बैठक की अध्यक्षता श्री मीना कर रहे थे और पुलिस अधीक्षक बीरेंद्र कुमार सिंह की विशेष उपस्थिति में व्हीसी के माध्यम से वे समस्त उपखण्ड अधिकारियों व आरआरटी टीम को संबोधित कर रहे थे।

बैठक मे कलेक्टर श्री मीना ने उप खण्ड अधिकारियों को कहा कि अपने अपने क्षेत्रों में आपदा प्रबंधन समिति के सदस्यों के साथ भ्रमण कर लोगों को प्रेरित करना होगा कि कोरोना से बचाव हेतु टीकाकरण अत्यन्त आवश्यक है। उन्होंने कहा कि 18 से 45 वर्ष के नागरिकों को बताएं कि वे टीकाकरण केन्द्र में पहुँचकर अपना टीकाकरण करायें। उन्होंने कहा कि 45 वर्ष के ऊपर उम्र वाले व्यक्तियों को भी टीकाकरण के लिए समझाईस दें। उन्होंने निर्देश दिये कि ग्राम पंचायतों, जनपद पंचायतो मे गठित आपदा प्रबंधन समिति के सदस्यों के साथ साथ उस क्षेत्र के प्रतिष्ठित व्यक्तियों के माध्यम से लोगों को वैक्सीनेशन के लिए जागरूक करें।

जताया आभार, कहा रहें होशियार

कलेक्टर ने कहा कि आप सबके दो माह के अथक परीश्रम का परिणाम है कि जिले में कोरोना का संक्रमण कम हुआ है। धीरे धीरे संक्रमण की दर शून्य होने वाली है। कलेक्टर ने कहा कि इस समय अगर थोड़ी भी लापरवाही हुई तो संक्रमण फिर आ सकता है। उन्होंने सावधानी बरतने को कहा। कलेक्टर ने कहा कि संक्रमण की गति दोबारा न बढ़े इसके लिए कोराना गाईड लाईन का कठोरता से पालन करायें। बिना मास्क के पाये जाने वाले व्यक्तियों पर चालानी कार्यवाही करें। उन्होंने निर्देश दिया कि सभी अधिकारी अपने अपने क्षेत्रों में जारी गाईड लाईन के अनुसार ही किराना एवं सब्जी की दुकानें खुलें। कार्यालयों में कोई भी व्यक्ति बिना मास्क के प्रवेश न करें। उन्होंने कहा संक्रमण अभी नियंत्रण में है। लेकिन यदि लापरवाही हुई तो संक्रमण के बढ़ने में समय नहीं लगेगा। उन्होंने कहा कि एक भी व्यक्ति यदि पॉजिटिव मिले तो उस स्थल को माईक्रो कंटेनमेंट जोन बनाएं एवं संक्रमित व्यक्ति के संम्पर्क में आने वाले व्यक्तियों की जाँच कर उन्हें होम क्वॉरन्टीन करायें। कलेक्टर ने निर्देश दिया कि दूसरे प्रदेशों से आने वाले लोगों को क्वॉरन्टीन करें एवं उन्होंने कहा कि बाहर से आने वाले व्यक्तियों को 72 घण्टे पूर्व का आरटीपीसीआर रिपोर्ट साथ लाना अनिवार्य होगा। उन्होंने निर्देश दिया कि सीमाओं पर बनाये गये चेकपोस्टों पर कड़ी निगरानी रखें। बैठक के दौरान जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी साकेत मालवीय, अपर कलेक्टर डीपी बर्मन, संयुक्त कलेक्टर बीपी पाण्डेय, एसडीएम ऋषि पवार, सम्पदा सर्राफ, डिप्टी कलेक्टर एसपी मिश्रा, निगमायुक्त आरपी सिंह, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डा. एनके जैन सहित जिले अन्य अधिकारी व्हीसी के माध्यम से जुड़े रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button