बच्चा चोरी मामले में पुलिस ने एक महिला को पकड़ा

महिला के कब्जे से दो बच्चे व 3 मोबाइल बरामद

सिंगरौली/कटनी। मध्यप्रदेश के कटनी जिला अस्पताल से 23 अगस्त की शाम बच्चा चोरी करने के आरोप में एक महिला को पुलिस ने तेवरी गांव में बस सर्चिंग के दौरान गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी महिला के पास दो बच्चे मिले हैं। दूसरे बच्चे को आरोपी महिला ने बाकल थाना अंतर्गत मसंधा गांव से 21 अगस्त को चोरी किया था। पुलिस ने दोनों बच्चों का स्वास्थ्य परीक्षण कराने के बाद उनके परिजनों को सौंप दिया है।

एसपी मयंक अवस्थी का कहना

एसपी IPS मयंक अवस्थी ने बताया कि शुरुआती पूछताछ में महिला ने जानकारी दी है कि उसके दो बच्चे थे, लेकिन पति से विवाद होने पर उसने कुछ वर्ष पहले दूसरी शादी कर ली। दोनों बच्चे पहले पति के पास ही हैं, दूसरे पति से उसे बच्चे नहीं हो रहे थे, बच्चे पालने के लिए ही उसने बच्चे चोरी किए थे।

हालांकि पुलिस को महिला द्वारा दी जा रही जानकारी पर विश्वास नहीं है। एसपी मयंक अवस्थी का कहना है कि महिला अपने पास तीन चार साडि़या रखती है और बच्चा चोरी करने के कुछ देर बाद साड़ी बदल लेती थी, महिला के पास से तीन मोबाइल मिले। पुलिस बच्चा चोर गिरोह से जुड़े होने और मानव तस्करी के एंगल से जांच कर रही है।

आपको बता दें कि, जिला अस्पताल से भट्टा मोहल्ला निवासी गोमती पति सूरज कोल (30 वर्ष) के तीन दिन का बच्चा चोरी होने की शिकायत पर सर्चिंग की जा रही थी। सर्चिंग के दौरान देर शाम कटनी से जबलपुर जाने वाली बस को तेवरी गांव के पास रोका गया। बस में एक महिला दो बच्चे लिए हुए थी, बच्चे के रोने की आवाज पर पुलिस ने उससे बच्चों के संबंध में पूछताछ की तो पता चला कि बच्चे उसके नहीं है। पुलिस ने महिला से दोनों बच्चों को अपने कब्जे में लिया ओर एंबुलेंस से जिला अस्पताल पहुंचे। दोनों बच्चों की स्वास्थ्य जांच के बाद तीन दिन के बच्चे को गोमती कोल और ढाई महीने के बच्चे को उसकी मां मसंधा गांव निवासी कविता कोल को सौंप दिया है। बच्चा चोरी के आरोप में पकड़ी गई महिला दमोह जिले के झादा गांव निवासी सिया बाई पति बलवीर सिंह (40) है।
पुलिस ने बताया कि सिया बाई ने दो शादियां की हैं, उसका पहला पति लखन है, लखन से उसके दो बच्चे हुए, लेकिन विवाद के बाद तीन वर्ष पहले उसने पति को छोड़ दिया। महिला के दोनों बच्चे पहले पति के साथ रहते हैं। महिला ने तीन साल पहले दूसरी शादी बलवीर सिंह से की। जिसके बाद उसके बच्चे नहीं हुए। बच्चा चोर के आरोप में पकड़ी गई महिला का कहना है कि उसने अपने पति को गभर्वती होने की जानकारी दी थी, इसीलिए तीन दिन के बच्चे को चोरी किया। वहीं मसंधा गांव से चोरी किए गए बच्चे के संबंध में उसका कहना है कि बच्चे पालने के शौक के कारण उसने बच्चा चोरी किया। महिला द्वारा दिए जा रहे बयान पुलिस को संदिग्ध लग रहे हैं।

एसपी मयंक अवस्थी ने बताया कि महिला के पास से तीन मोबाइल मिले हैं। तीनों मोबाइल की कॉल डिटेल खंगाली जा रही है। साथ ही महिला को नाम से खुले खातों की जानकारी भी ली जा रही हैं। पुलिस मानव तस्करी के एंगल से जांच कर रही है। महिला खाते में कहीं से रुपए तो नहीं भेजे गए, महिला के पास से मिले तीन मोबाइल पर किनसे बात होती थी, इन सभी पहलुओं की जांच की जा रही है।

Rohit Gupta

A journalist, writer, thinker, poet and social worker.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button