वैक्सीनेशन के सकारात्मक परिणाम हैं, 18 प्लस व्यक्तियों को टीकाकरण के लिए करें प्रेरितः कलेक्टर

कलेक्टर मीना ने किल कोरोना अभियान 4 की समीक्षा की

सिंगरौली। कलेक्टर राजीव रंजन मीना ने किल कोरोना अभियान के चौथे चरण की समीक्षा की और संबंधितों को निर्देशित किया कि प्रत्येक व्यक्ति तक पहुंचकर उनके स्वास्थ्य की जानकारी प्राप्त करें।कोरोना की श्रृंखला को तोड़ने के लिये सर्वे कार्य में पूरी गंभीरता आवश्यक है। उन्होंने आगाह किया कि कोई भी व्यक्ति सर्वे से छूटना नहीं चाहिये। सर्वे के दौरान लोगों को आवश्यकतानुसार दवाईयों का वितरण भी सुनिश्चित करें। सर्वे के दौरान मिलने वाले संदिग्धों को तत्काल आइसोलेट करें या क्वारेंटाइन सेंटर भेजने की कार्यवाही करें तथा वरिष्ठ अधिकारियों को सूचित करें।

कलेक्टर ने कहा कि किल कोरोना अभियान के तहत सर्वेक्षण के लिये जनसंख्या के आधार पर टीम का निर्धारण करें। सर्वे टीम की संख्या इस प्रकार रखें कि समय सीमा में सर्वेक्षण का कार्य पूर्ण हो सके। उन्होंने निर्देश दिया आरआरटी टीम अपने अपने क्षेत्रों में अभियान की निरंतर मॉनीटरिंग करें तथा एसडीएम व तहसीलदार सर्वे कार्य की दैनिक समीक्षा करें।
कलेक्टर श्री मीना ने दवाईयों की आवश्यकता का आंकलन कर मांग पत्र भेजने के निर्देश दिये।

टीकाकरण में लाएं तेजी

उन्होंने कहा कि वैक्सीनेशन के लिए सकारात्मक माहौल तैयार करें। वैक्सीनेशन के अच्छे परिणाम सामने आ रहे हैं। अतः लक्ष्य समूह के लोगों को समझाईश देते हुये उन्हें वैक्सीनेशन के लिये प्रेरित किया जाय।

वैक्सीन को लेकर अफवाह फैलाने वालों पर हो कार्यवाही

उन्होंने कहा कि लोक सेवक वैक्सीनेशन के संबंध में सकारात्मक वातावरण तैयार करें। वैक्सीन के संबंध में गलत जानकारी देने वाले तत्वों के विरुद्ध नियमानुसार कार्यवाही करें।

संक्रमण-संभावित लोगों को क्वारेंटाइन कराने का निर्देश

कलेक्टर ने कहा कि कोरोना के संक्रमण पर नियंत्रण पाने के लिये आवश्यक है कि पॉजीटिव मरीजों तथा संदिग्धों को सख्ती से क्वांरेटाइन कराया जाय।उन्होंने संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया कि जिनका भी कोविड टेस्ट कराया जा रहा है उन्हें निर्देशानुसार क्वांरेटाइन करायें।
उन्होंने निर्देश दिया कि संक्रमित व्यक्ति के पास अगर होम आईसोलेशन की सुविधा नहीं है तो तत्काल उन्हें संस्थागत कोविड केन्द्रों में भर्ती कराया जाय।

बाहर से आने वालों को 10 दिन का एकांत वास

कलेक्टर मीना ने निर्देशित किया कि दूसरे प्रदेश या जिलों से आने वाले व्यक्तियों को 10 दिन तक संस्थागत क्वारेनटाईन करायें। उन्होंने निर्देश दिया जिले की सीमाओं के चेक पोस्ट पर कड़ी निगरानी रखी जाय। आरआरटी प्रभारी प्रति दिवस यह जानकारी संकलित करें कि कितने व्यक्तियों ने बाहर से जिले में प्रवेश किया है। उनकी जानकारी निर्धारित प्रपत्र में प्रस्तुत करें। उन्होंने निर्देश दिया कि अपने अपने अपने क्षेत्रों में बचे हुए समय को दृष्टिगत रखते हुये कोरोना कर्फ्यू का कड़ाई से पालन करायें।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button