सेंधमारी कर गहने चोरी करने के मामले में तीन बाल अपचारी गिरफ्तार

मोरवा पुलिस ने बरामद किए दो लाख के गहने

सिंगरौली। मोरवा पुलिस ने सूने घरों का ताला तोड़कर अथवा सेंधमारी कर गहने व नकदी की चोरी करने के मामले में तीन बाल अपचारियों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने इनके कब्जे से चोरी के दो लाख रुपये मूल्य के ज़ेवर भी बरामद किये हैं।

प्राप्त जानकारी के अनुसार एनसीएल कालोनी सिंगरौली के आवास एचबी- 237 एवं वार्ड क्रमांक 4 स्थित अंबेडकर नगर के सुनसान घरों का ताला एवं कुंदा तोड़कर लाखों रुपए के सोने चांदी के जेवरात चोरी करने वाले तीन बाल अपचारी को स्थानीय लोगों की मदद से मोरवा पुलिस ने गिरफ्तार किया तथा उनके कब्जे से दो लाख से अधिक कीमती सोने चांदी के गहने बरामद किये हैं।

बताया जाता है कि एनसीएल कॉलोनी के आवास क्रमांक एचबी- 237 में रहने वाले सहायक पशु चिकित्सक सत्येंद्र सिंह वैवाहिक कार्यक्रम में अपने गांव हड़बड़ो सीधी गए हुए थे। इसी बीच चोरों ने सुनसान पाकर रात के समय उनके घर के दरवाजे का कुंदा तोड़कर आलमारी में रखे करीब डेढ़ लाख का सोने चांदी के जेवरात पार कर दिया था।

सतेन्द्र सिंह ने इसकी लिखित तहरीर मोरवा थाना में दिया था। इसके पूर्व जून महीने में ही अम्बेडकर नगर स्थित सुरेश मोहली भी अपनी पत्नी का इलाज कराने कलकत्ता गए हुए थे। उनके घर का ताला तोड़ चोरों ने लाखों रुपये के गहने एवं सोने चांदी के आभूषण एवं नगदी पार कर दिए थे। जिसकी लिखित शिकायत मोरवा थाना में की गई थी। पुलिस चोरों की तलाश करने में लगी थी।

पार्षद व स्थानीय लोगों के सहयोग से पकड़े गए..

वार्ड क्रमांक 4 के पार्षद विमल गुप्ता एवं स्थानीय निवासी सोनू राय ने अपने साथियों के साथ चोरी के शक पर तीनों आरोपियों को पकड़कर पुलिस के हवाले कर दिया। पुलिस की पूछताछ में चोरों ने अपना जुर्म करना कबूल लिया जिस पर पुलिस ने तीनों बाल अपचारियों के विरुद्ध भादवि की धारा 457, 380, 34 आईपीसी के तहत मामला दर्ज कर लिया है। ये सभी आरोपी अल्पवय के हैं। एक की उम्र 9 वर्ष, दूसरे की 16 एवं तीसरे की उम्र 17 वर्ष बतायी गयी है।

एक है आदतन अपराधी

16 वर्षीय बाल अपचारी इसके पूर्व दो बार जेल जा चुका है। चोरियों के मामले में बाल अपचारियों से थाने में पूछताछ की जा रही है। बड़ी मात्रा में चोरी का सोने एवं चांदी के जेवरात बरामद किया गया है। तीसरा बाल अपचारी अभी लॉकडाउन के दौरान ही जमानत पर छूटकर आया था। पुनः अपने सगे छोटे भाई एवं एक अन्य सहयोगी के साथ चोरी की घटना को अंजाम दिया है।

इनकी रही भूमिका

उक्त कार्यवाही में मोरवा थाना प्रभारी निरीक्षक मनीष त्रिपाठी, उप निरीक्षक सरनाम सिंह, विनय शुक्ला, प्रधान आरक्षक संजय सिंह परिहार, संतोष सिंह चंदेल, सुबोध सिंह तोमर के साथ ही पूर्व पार्षद विमल गुप्ता सोनू राय आदि की भूमिका सराहनीय रही।

Rohit Gupta

A journalist, writer, thinker, poet and social worker.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button