चेक पोस्ट पर ड्यूटी कर रहे शिक्षकों को कारण बताओ नोटिस देना दुर्भाग्यपूर्ण

कर्मचारियों के नोटिस वापस लिये जाएं

सिंगरौली| NMOPS के जिला अध्यक्ष के के पाठक तथा अवधलाल वैश्य प्रांतीय संगठन मंत्री द्वारा प्रेस न्यूज जारी करते हुए कहा कि एक तरफ शिक्षक जान को दांव में लगाते हुए चेक पोस्ट, टीकाकरण सेंटर, गांवों में कोरोना टेस्ट, आक्सीजन सिलेंडर आदि कोरोना ड्यूटी कर रहा है, किंतु अपनी पीठ थपथपाने के लिए कुछ ऐसे अधिकारी हैं जो अपने आपको ब्रिलियंट मानते हुए ओवर कांफिडेंस से काम कर अपनी दबंगई को ड्यूटी कर रहे शिक्षकों पर उतार रहे हैं, प्रांतीय संगठन मंत्री अवधपाल ने बताया कि निरीक्षणकर्ता के द्वारा औचक निरीक्षण के नाम से झूठी जानकारी कलेक्टर सिंगरौली को सौंपकर ऐसे कर्तव्य निष्ठ लोगों पर सवालिया निशान लगाने से भी नहीं चूकते।

मामला सिंगरौली जिले के नगर निगम क्षेत्रांतर्गत लगाए गए शिक्षकों का

ऐसे 30 कर्मचारियों को कलेक्टर महोदय को गुमराह कर ऐसे कोरोना योद्धा जो दिन-रात अपनी व अपने परिवार की परवाह किए बिना सेवा दे रहे हैं, उन्हें प्रताड़ित किया जा रहा है। संभाग अध्यक्ष रीवा मनमोहन दुबे को भी 30 कर्मचारियों को नोटिस की जानकारी मिली तो उन्होंने भी ऐसे अधिकारियों पर नाराजगी जाहिर की है। उन्होंने कहा कि यदि नोटिस को वापस नहीं लिया जाता है तो स्वयं मुख्यमंत्री जी तक अपनी बात रखेंगे।
के के पाठक ने कहा कि एक और बिडंबना यह है कि शिक्षक बिना कोरोना योद्धा की श्रेणी में होने के बावजूद बिना किट सेनेटाइजर अर्थात बिना सुविधा के निरंतर दूर दूर इलाकों में अपनी सेवाएं दे रहा है, वहीं बदले की भावना से ग्रसित लोग कोरोना वारियर्स पर संदेह करेंगे तो फिर कोरोना की जंग को कैसे जीतेंगे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button