नहर फूटी; गाड़ा गांव में भरा पानी

आधा दर्जन घरों का निस्तार पूर्णत: प्रभावित सूचना के बाद भी मौके पर नहीं पहुंचा प्रशासनिक अमला

सिंगरौली/सीधी। रविवार को गुलाबसागर बांध की निर्माणाधीन नहर के फूटने से सीधी जिला मुख्यालय से करीब 7 किलोमीटर दूर स्थित गाड़ा बबन सिंह गांव में पानी भर गया। नहर का पानी से गांव के दो टोले सबसे ज्यादा प्रभावित हैं। यहां आधा दर्जन घरों का निस्तार पूरी तरह से अवरुद्ध हो गया है।
प्रभावित ग्रामीणों की सूचना के बाद भी शाम तक कोई भी प्रशासनिक अमला मौके पर नहीं पहुंचा था।

ग्रामवासी ने बताया

तत्संबंध में ग्राम गाड़ा बबन सिंह के वार्ड क्रमांक 15 निवासी लल्लू सिंह ने बताया कि जो नहर फूटी है वह निर्माणाधीन है। बरसात का क्रम शुरू होते ही 3-4 दिनों तक तेज पानी गिरने से करीब एक पखवाडे पूर्व नहर फूट गई थी। उसी समय से पानी गांव में आ रहा है। नहर फूटने की सूचना ठेकेदार के साथ ही जल संसाधन विभाग के एसडीओ को भी दी गई लेकिन उनके द्वारा नहर की मरम्मत कराने की जरूरत नहीं समझी गई। जिसके चलते कल रात से तेज बारिश होने के बाद नहर का पानी गांव में आ रहा है। स्थिति यह है कि वार्ड क्रमांक 15 के 4 घरों का निस्तार पूरी तरह से अवरुद्ध हो गया है। पानी कुछ घरों के अंदर भी आने लगा है जिससे लोग काफी परेशान हैं। इसी तरह गाड़ा बबन सिंह के सेंदहा टोला में भी करीब 4 घरों में पानी आने से लोगों को भारी समस्या का सामना करना पड़ रहा है।

ग्रामवासी का आरोप

प्रभावित लल्लू सिंह ने बताया कि यदि तेज बारिश हुई तो नहर का पानी और भी विकराल रूप धारण कर सकता है। उस दौरान प्रभावित घरों में बड़ी तबाही भी हो सकतीे है। दुर्भाग्य ये है कि इसकी सूचना जिम्मेदार लगातार देने के बाद भी नहर का पानी गांव में न आए इसके लिए कोई प्रयास नहीं किए जा रहे हैं।

एक पखवाड़े से बनी है समस्या

वार्ड क्रमांक 15 के निवासी रामनाथ सिंह चौहान, रामजनम सिंह, विक्रम सिंह ने बताया कि उनके घरों में भी तेज बारिश होते ही गुलाबसागर नहर के फूटने से पानी लगातार आ रहा है। ये स्थिति करीब 20 दिनों से बनी हुई है। बरसात के शुरूआती 3-4 दिन तेज बारिश होने के बाद से बारिश थम गई थी। कल रात से तेज बारिश होने के बाद ग्रामीणों के घरों में पानी आना फिर से शुरू हो गया। प्रभावित ग्रामीणों का कहना था कि सबसे ज्यादा उन्हें इस बात का डर है कि रात में कहीं तेज बारिश हुई तो उनके घरों में पूरी तरह से पानी भर जाएगा। उस दौरान उनके परिवार का कोई मददगार भी कोई नहीं होगा।

विभागीय अमला लापरवाह

इस मामले मेें गुलाबसागर बांध के ठेकेदार के साथ ही जल संसाधन विभाग के एसडीओ पूरी तरह से लापरवाह बने हुए हैं। इनके द्वारा नहर 20 दिन पहले फूटने के बाद भी आज तक उसका कोई सुधार कार्य नहीं कराया गया है।

इनका कहना है

गाड़ा बबन सिंह में गुलाबसागर बांध की नहर का काम स्थानीय बबलू सिंह द्वारा जबरन रोंक दिया गया था। जबकि उन्हें पूरे मुआवजा का भुगतान हो चुका है। फिर भी सरहंगई पूर्वक काम बंद करा देने से जहां नहर फूटी है उसका सुधार कार्य नहीं हो पा रहा है। इस संबंध में उनके द्वारा गोपद बनास एसडीएम नीलांबर मिश्रा से चर्चा की गई है। उनके द्वारा आश्वासन दिया गया है कि पुलिस फोर्स मुहैया कराकर रोंके गए कार्य को 2-3 दिनों के अंदर शुरू करा दिया जाएगा।
आरआर सिंह
एसडीओ
जल संसाधन विभाग, सीधी

Rohit Gupta

A journalist, writer, thinker, poet and social worker.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button