कोरोना की तीसरी लहर के अंदेशों को लेकर संजीदा हुआ प्रशासन

कलेक्टर ने जिला चिकित्सालय सह ट्रॉमा सेंटर व पुराने चिकित्सालय का आकस्मिक निरीक्षण कर दिये निर्देश

सिंगरौली,मध्यप्रदेश।
कोरोना के थर्ड अटैक के अंदेशे को लेकर सिंगरौली जिला प्रशासन ने चहलकदमी शुरू कर दी है। बुधवार को कलेक्टर राजीव रंजन मीना ने कोरोना के संभावित तीसरी लहर को रोकने एवं पीड़ित होने वालों के बेहतर उपचार के लिए चिकित्सा व्यवस्था को सुदृढ़ बनाने के उद्देश्य से पुराने जिला चिकित्सालय भवन में 100 बेड का सर्व सुविधायुक्त आईसोलेशन वार्ड को शीघ्रता से तैयार कराने हेतु निर्देशित किया। औचक निरीक्षण के दौरान कलेक्टर ने वार्डों में विद्युत पेयजल के साथ साथ शौचालयों की उचित व्यवस्था के लिए भी अधिकारियों को कहा। उन्होंने वार्डों का मरम्मत निर्धारित समय में पूर्ण करने एवं रैम्प बनाने हेतु कार्यपालन यंत्री चडार सहित मुख्य स्वास्थ्य चिकित्सा अधिकारी को आवश्यक निर्देश दिए।

ओपीडी को सुचारु चलाएं

कलेक्टर मीना ने ट्रॉमा सेंटर सह जिला चिकित्सालय का भी आकस्मिक निरीक्षण किया। उन्होंने जिला चिकित्सालय में संचालित ओपीडी की व्यवस्था सहित चिकित्सकों के कक्षों का निरीक्षण कर सीएमएचओ सह सिविल सर्जन डा. एनके जैन को निर्देश दिये कि ओपीडी की व्यवस्था बेहतरीन तरीके से संचालित की जाय। उन्होंने कहा कि चिकित्सकों को विभागवार अलग अलग बैठने की शीघ्र व्यवस्था करायें। ताकि चिकित्सालय मे आने वाले व्यक्तियों को चिकित्सकों के संबध में किसी प्रकार की दिक्कत न हो।

उन्होंने निर्देश दिया कि गायनी विभाग के चिकित्सकों एवं वार्डों की व्यवस्था अलग से निर्धारित रहे। साथ ही चिकित्सालय की साफ सफाई की व्यवस्था लगातार होती रहे।

अनुपस्थित रहे चिकित्सक को नोटिस देने को कहा

कलेक्टर ने निरीक्षण के दौरान अनुपस्थित चिकित्सक को कारण बताओ नोटिस जारी करने के भी निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि ओपीडी में चिकित्सक निर्धारित समय पर उपस्थित रहें। उन्होंने कहा निर्धारित चार्ट के अनुसार भर्ती मरीजों की देख रेख के लिए चिकित्सक अलग अलग समय पर वार्डों का राउन्ड लगायें। जिससे प्रातः कालीन ओपीडी की व्यवस्था सुचारू रूप से चलती रहे। उन्होंने कार्यपालन यंत्री पीआईयू को भी निर्देश दिये कि ट्रामा सेंटर में चल रहे विभिन्न निर्माण कार्यों को समय सीमा के अंदर पूर्ण कराया जाय। इस दौरान डॉ. पंकज सिंह, डॉ. उमेश सिंह आदि उपस्थित रहे।

Rohit Gupta

A journalist, writer, thinker, poet and social worker.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button