एनसीएल की खदानों से चुराकर कोयले को मंडी ले जा रहे तीन ट्रक पकड़ाए

सिंगरौली, मध्यप्रदेश। एनसीएल की कोयला खदानों से हर दिन कंपनी के लोगों की साठगांठ से हजारों टन कोयले की अवैध निकासी से संबंधित चर्चाएं आम रही हैं। लेकिन गत रविवार को पिपरी में पकड़े गए तीन ट्रक चोरी के कोयले ने इस जनचर्चा को लगभग सिद्ध कर दिया है। बड़े पैमाने पर संगठित तरीके से हो रही कोयले की चोरी पर अंकुश लगाने की दिशा में कंपनी प्रबंधन द्वारा बरती जा रही शिथिलता को भी इस घटना ने उजागर कर दिया है। प्राप्त जानकारी के अनुसार वन रेंज पिपरी के अधिकारियों द्वारा अवैध कोयला लदे तीन ट्रक पकड़े गये हैं।

वन क्षेत्राधिकारी ने बताया

इस मामले में जानकारी देते हुए क्षेत्रीय वन अधिकारी पिपरी बीके पाण्डेय ने बताया कि सिंगरौली से वाराणसी के लिए चोरी का कोयला लेकर जा रहे तीन ट्रकों को चेकिंग के दौरान पकड़ा गया। आज सुबह अवैध कोयला परिवहन करते पकड़े गये ट्रक क्रमांक ओडी 16 जी 8111, ओडी 16 एफ 9011 एवं ओडी 16 एएफ 9871 हैं। उन्होंने बताया कि उक्त तीनों ट्रक भागने की फिराक में थे। लेकिन प्रभागीय वन अधिकारी रेनुकूट मनमोहन मिश्रा के नेतृत्व में चल रहे सघन चेकिंग जांच अभियान के दौरान उन्हें पकड़ लिया गया। श्री पाण्डेय के अनुसार कोयला से लदे तीनों ट्रकों के पास टीपी और अन्य संबंधित आवश्यक कागजात नहीं थे, वे अवैध परिवहन कर रहे थे। गौण खनिज के अवैध तरीक़े से परिवहन करने के लिए इन वाहनों को सीज करने की कार्यवाही की गई है। तीनो ट्रकों को रेंज कार्यालय पिपरी में खड़ा कराया गया है। उन्होंने बताया कि पूछताछ के दौरान सिंगरौली से एनसीएल का कोयला लेकर आना बताया गया है।

कार्यवाही दल

उपरोक्त सम्पूर्ण कार्यवाही में प्रमुख रूप से वन क्षेत्रीय अधिकारी बीके पाण्डेय, धीरेंद्र मिश्रा, अमित कुमार श्रीवास्तव एवं फूलचंद्र वन रक्षक आदि की महत्वपूर्ण भूमिका रही।

Rohit Gupta

A journalist, writer, thinker, poet and social worker.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button