योग दिवस पूर्व 7 करोड़ प्रदेशवासियों को CM शिवराज का संदेश- ‘रोज योग करें- स्वस्थ और प्रसन्न रहें’

योग और उसके महत्व को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर पहचान दिलाने के लिए साल 2015 में अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस की शुरुआत हुई थी। इसके बाद से हर साल 21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाया जाता है। इस बार अंतरराष्ट्रीय योग दिवस का सातवां उत्सव भारत के साथ-साथ दुनिया भर के अधिकांश देशों में सोमवार को नई थीम-”योग के साथ रहें, घर पर रहे” के तहत मनाया जाएगा। इसके पूर्व मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने राज्य के करीब 7 करोड़ लोगों को अहम संदेश दिया है। उन्होंने प्रदेश के लोगों से ‘रोज योग करने और स्वस्थ और प्रसन्न रहने की अपील की है। बताना चाहेंगे वर्तमान में कोविड-19 महामारी के चलते अपने अंदर सकारात्मक ऊर्जा और बेहतर रोग प्रतिरोधक क्षमता विकसित करने के लिए योग की महत्ता और भी अधिक हो गई है।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अपने संदेश में रविवार को कहा है कि ‘शरीरम् माध्यम् खलुधर्म् साधनम्’ शरीर सब धर्मों का पालन करने का माध्यम है। पहला सुख निरोगी काया है। शरीर का स्वस्थ रहना, निरोग रहना, हर लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए आवश्यक है। शरीर को स्वस्थ रखने के लिए अगर कोई रामबाण है तो वह है योग। मुख्यमंत्री चौहान ने अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के निमित्त वैलनेस और स्पिरिचुअल टूरिज्म  विषय पर प्रदेशवासियों के नाम जारी संदेश में यह बात कही।

हजारों साल पुरानी विधा है योग
मुख्यमंत्री शिवराज का कहना है कि अगर हम योग और प्राणायाम लगातार करते हैं तो शरीर निरोगी बनता है, बुद्धि प्रखर होती है और हम क्षमतावान होते चले जाते हैं। योग हजारों साल पुरानी विधा है। यम,नियम,आसन, प्राणायाम, प्रत्याहार, ध्यान, धारणा, समाधि इसके अंग हैं। हम अष्टांग योग की बात न भी करें तो कम से कम रोज योगासन और प्राणायाम अवश्य करें।

प्रधानमंत्री मोदी की पहल से दुनिया उठा रही है योग का लाभ
इस दौरान मुख्‍यमंत्री चौहान यह भी कहते हैं कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पहल के कारण अब दुनिया योग का लाभ उठा रही है। 21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस है। योग दिवस पर तो योग करना ही है, साथ ही संकल्प लेना है कि हम प्रतिदिन योग करेंगे।

मुझे कोरोना हुआ पर छूकर निकल गया क्योंकि मैं प्राणायाम और योग करता था
अपने व्यक्तिगत अनुभवों को साझा करते हुए मुख्यमंत्री शिवराज ने यह भी बताया है कि कैसे वह अब तक कोरोना से बचे रहे हैं। उन्होंने कहा मैं रोज योग, प्राणायाम, योगासन और सूर्य-नमस्कार करता हूं। इसलिए 24 में से 18-18 घंटे काम कर लेता हूं। मुझे कोरोना हुआ पर छूकर निकल गया क्योंकि मैं प्राणायाम और योग करता था। योग, प्राणायाम से रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है। अत: गंभीर संक्रमण नहीं हुआ। क्या आप योग के माध्यम से अपने शरीर को निरोगी नहीं करना चाहेंगे?

शिवराज ने प्रदेश-वासियों से की प्रतिदिन योग करने की अपील
चौहान ने प्रदेश-वासियों से अपील की कि अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर तो योग करें हीं, साथ ही प्रतिदिन अपने जीवन में योग को सम्मिलित करके शरीर को स्वस्थ, निरोगी और प्रसन्न बनायें। मुख्यमंत्री चौहान का कहना यह भी है कि हमारा यह शरीर अनन्त शक्तियों का भण्डार है। इन शक्तियों को सहेजने और सही दिशा में ले जाने की जरूरत है। योग इसका सबसे प्रभावी माध्यम है। रोज योग कीजिये,निरोगी रहिये, स्वस्थ और प्रसन्न रहिये।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button