मध्यप्रदेश विधानसभा चुनाव 2023 का काउंट डाउन शुरू

सिंगरौली सहित प्रदेश के 27 आईएएस स्थानांतरित

singraulitimes.com

मध्य प्रदेश, भोपाल/सिंगरौली

मध्य प्रदेश में मुख्य मंत्री के रूप में सबसे लंबा कार्यकाल व्यतीत करने वाले भारतीय जनता पार्टी के नेता एवं वर्तमान में भी अपने चौथे कार्यकाल में सीएम के सिंहासन पर आरूढ़ शिवराज सिंह चौहान सरकार 2022 में संपन्न हुए निकाय चुनावों के परिणामों का संभवतः प्राक्कलन करने के बाद अभी से ही 2023 के नवंबर माह अथवा उससे पूर्व होने वाले विधान सभा चुनावों को लेकर न केवल सजग हो गई है, अपितु इलेक्शन मोड में भी आ गई है। राजनीतिक विश्लेषकों का कहना है कि सीएम शिवराज ने नवंबर 2023 में संभावित विधान सभा निर्वाचन के ठीक एक साल पहले प्रदेश के 27 भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारियों का स्थानांतरण किया है। यह एक प्रकार का संकेत है कि भाजपा की चुनावी घड़ी में इलेक्शन काउंट डाउन शुरू हो गया है।

राज्य निर्वाचन आयोग के उप सचिव अरुण कुमार परमार होंगे सिंगरौली के नए कलेक्टर

सोमवार को राज्य शासन द्वारा प्रदेश के 27 भारतीय प्रशासनिक अधिकारियों (IAS) का स्थानांतरण कर दिया गया है। जिसमें सिंगरौली जिले के कलेक्टर राजीव रंजन मीना व सीधी जिले के कलेक्टर मुज़ीब उर्रहमान भी शामिल हैं। इन जिलों में संपन्न हुए निकाय चुनावों के परिणाम भाजपा के लिए सकारात्मक नहीं रहे। सिंगरौली कलेक्टर राजीव रंजन मीणा को खनिज संसाधन विभाग के एमडी, उप सचिव के पद पर स्थानांतरित कर दिया है। राज्य निर्वाचन आयोग के उप सचिव अरुण कुमार परमार अब सिंगरौली जिले के नए कलेक्टर होंगे। साथ ही सिंगरौली जिला पंचायत सीईओ साकेत मालवीय को सीधी जिले का कलेक्टर बनाया गया है। सीधी कलेक्टर मुजीब उर्रहमान खान को एसआरवीपी नरोन्हा प्रशासन एवं प्रबंधकीय अकादमी के संचालक का दायित्व सौंपा गया है। कटनी कलेक्टर प्रियंक मिश्रा अब धार जिले की कलेक्टर होंगी।

Rohit Gupta

A journalist, writer, thinker, poet and social worker.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button