पूर्व मध्य रेल ने मात्र 212 दिनों में 100 मिलियन टन माल लदान का बनाया कीर्तिमान

singraulitimes.com

पूर्व मध्य रेल ने चालू वित्तीय वर्ष 2022-23 के प्रथम 212 दिनों में  29.10.2022 तक ही 100 मिलियन टन माल लदान का कीर्तिमान स्थापित कर दिया है।

कोयले का किया सर्वाधिक लोडिंग

यह उपलब्धि वर्ष 2020-21 में 277 दिन में, जबकि 2021-22 में 234 दिन में प्राप्त की गयी थी।
चालू वित्त वर्ष के अक्तूबर माह तक पूर्व मध्य रेल द्वारा 101.19 मिलियन टन माल लदान किया गया। यह माल लदान पिछले वित्त वर्ष अथार्त वर्ष 2021-22 के अक्तूबर माह तक लदान किए गए 91.06 मिलियन टन की तुलना में 11.12 प्रतिशत अधिक है। पूर्व मध्य रेल के अक्तूबर माह तक के कुल माल लदान में 92.92 मिलियन टन के साथ सबसे ज्यादा योगदान कोयला का है।

माल लदान में पूमरे देश में चौथा

विदित हो कि पूर्व मध्य रेल माल लदान के क्षेत्र में पू्र्व तटीय रेल, दक्षिण पूर्व मध्य रेल तथा दक्षिण पूर्व रेलवे के बाद चौथे स्थान पर है। साथ ही पूर्व मध्य रेल के आय का मुख्य स्रोत भी माल लदान ही है। इस रेल से मुख्य रूप से कोयला तथा अन्य अयस्कों की ढुलाई होती है। यह जानकारी मुख्य जनसंपर्क अधिकारी पूमरे हाजीपुर वीरेन्द्र कुमार ने साझा की है।

Rohit Gupta

A journalist, writer, thinker, poet and social worker.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button