ज्वेलरी शॉप डकैती कांड का हुआ पर्दाफाश, लगभग 20 लाख रुपए कीमती मशरूका के साथ 8 आरोपी गिरफ्तार

एसपी कुमावत

सिंगरौली/सीधी।
एसपी पंकज कुमावत के निर्देशन में बनी सीधी पुलिस की 10 टीमों के अथक प्रयास एवं दक्षता के चलते कल बुधवार को मझौली डकैती कांड का पर्दाफाश किया गया जिसमें 08 आरोपियों को गिरफ्तार कर लगभग 20 लाख रुपए का मशरूका जप्त कर लिया गया है।

घटना पर विहंगम दृष्टि

बीते 02-03 जुलाई की दरम्यानी रात लगभग 2 से 3 बजे के बीच मझौली के मोहनलाल सोनी के गीता ज्वेलर्स में अज्ञात बदमाशों द्वारा पीछे का दरवाजा खोलकर दुकान के अंदर प्रवेश कर डकैती डाली गई थी। ज्वेलरी की लूटपाट के दौरान दुकान में सोये मोहनलाल सोनी के बेटे हार्दिक सोनी के साथ मारपीट की गई।
अज्ञात बदमाशों द्वारा ज्वेलरी दुकान से 2 किलो सोना 30 किलोग्राम चांदी के जेवरात तथा 60 हजार रुपये नगदी ले जाने की रिपोर्ट हार्दिक सोनी द्वारा लिखाये जाने पर थाने में अपराध क्र. 615/21 धारा 395,397,307,450, ता.हि. पंजीबद्ध की गयी थी।

घटना की सूचना मिलते ही एसडीओपी मझौली आर.के. शुक्ल थाना प्रभारी मझौली सतीष मिश्रा ने उपलब्ध बल के साथ तत्काल मौके पर पहुंचकर घटना की जानकारी पुलिस अधीक्षक सीधी को दी। प्रकरण की गंभीरता को देखते हुये पुलिस अधीक्षक सीधी द्वारा घटना के संबंध में दिशा निर्देश दिए गए। साथ ही पुलिस डॉग, सायबर टीम, फोरेंसिक टीम एवं फिंगर प्रिन्ट की टीम को मौके पर भेजा। जिसमें फिंगर प्रिन्ट टीम द्वारा घटनास्थल पर मिले फिंगर प्रिन्ट एवं फुट प्रिन्ट के अलावा आरोपीगण वारदात करने के बाद जिस रास्ते से भागे थे वहां के फुट प्रिन्ट भी काफी मेहनत कर उठाये गये थे। डॉग स्कॉड की टीम द्वारा भी घटनास्थल व आसपास के क्षेत्र में भौतिक साक्ष्य ढूंढने का प्रयास किया गया।

पुलिस अधीक्षक सीधी एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सीधी भी अविलंब मौके पर जाकर घटना का शूक्ष्म निरीक्षण कर एसडीओपी मझौली थाना प्रभारी मझौली को विवेचना के संबंध में निर्देशित किया। साथ ही पुलिस अधीक्षक सीधी पंकज कुमावत द्वारा स्वतः मझौली में कैम्प कर सीधी जिला के विभिन्न थाना प्रभारियों एवं पुलिस बल को मझौली में बुलाया था और डकैती का शीघ्र पर्दाफास कर आरोपियों की धरपकड हेतु 10 विशेष टीमें गठित कर उन्हें विधिवत विवेचना में लगाया था।

आईजी डीआईजी ने भी किया था स्थल निरीक्षण

सनसनीखेज घटना की सूचना मिलते ही पुलिस महानिरीक्षक रीवा उमेश जोगा तथा उप पुलिस महानिरीक्षक अनिल सिंह कुशवाह भी मझौली पहुंच घटनास्थल का निरीक्षण किया और विवेचना टीम को आवश्यक निर्देश दिये थे। लूटी गई ज्वेलर्स दुकान में लगे सीसीटीवी फुटेज में देखे गए आरोपी पर 30,000 रुपये का ईनाम पुलिस महानिरीक्षक रीवा द्वारा घोषित किया गया तथा पुलिस अधीक्षक सीधी द्वारा 10,000 रुपये का ईनाम घोषित किया गया था।

गैंग को चिन्हित कर हुई कार्यवाही

एसपी सीधी पंकज कुमावत के मार्गदर्शन में गठित टीमों ने काफी लगन एवं मेहनत से कार्य करते हुए यह पता किया गया कि घटना में पारधी गैंग का हाथ है। सायबर सेल एवं और मुखबिर की संभावित सूचना पर कि आरोपीगण चंदिया जिला उमरिया विलायतकला थाना बडवारा जिला कटनी के हो सकते हैं। जहां पर पारधियों का डेरा है।

ऐसे पकड़े गए आरोपी

प्राप्त जानकारी के अनुसार सीधी पुलिस द्वारा बडवारा पुलिस एवं कटनी पुलिस की मदद से पारधियों की बस्ती विलायतकला जिला कटनी एवं चंदिया जिला उमरिया में दबिस दी गई। तब वहां जंगल एवं अंधेरे का फायदा उठाते हुए आरोपी भाग निकले। लेकिन उनमें से एक व्यक्ति पुलिस की गिरफ्त में आ गया जिसे हिरासत में लेकर पूछतांछ की गई। सीसीटीव्ही फुटेज से मिलान कराया तो वह व्यक्ति फुटेज में दिखाई दिया एवं अपना नाम पता आरोपी बूडा सिंह पिता मेहलाल पारधी उम्र 40 वर्ष निवासी मुडरा बादरा थाना पिपरई जिला अशोकनगर का होना बताया। उसने घटना में शामिल होना बताया और पीड़ित हार्दिक सोनी के साथ शटर के हैण्डल से मारपीट करना भी कबूल किया। पुलिस के अनुसार घटना में लूटे गये सोने के जेवरात को विलायतकला में ले जाकर उसे 60 हिस्सों में बांटा गया। जिसमें इसके पास से 70 ग्राम सोना एवं 10200 रुपये बरामद हुए हैं।

इसके अलावा पारधी बस्ती अन्य आरोपीगण के घर में उपस्थित सदस्यों से सख्ती से पूछतांछ पर नीलम पारधी पति शक्ति पारधी उम्र 35 वर्ष निवासी विलायतकला के पेश करने पर 20 ग्राम सोना एंव 5400 रूपये नगदी। लेखाबाई पति बीरन पारधी उम्र 50 वर्ष निवासी चंदिया के कब्जे से 30 ग्राम एंव 4700 रूपये। चुनका बाई पति राजेश उर्फ कालू पारधी उम्र 55 वर्ष निवासी विलायतकला थाना बडवारा जिला कटनी के पास से 30 ग्राम सोना एवं 2600 रुपये नगदी। जीतू पिता बीरन पारधी उम्र 19 वर्ष निवासी चंदिया थाना चंदिया जिला उमरिया के – पास से 13 ग्राम सोने के जेवर एंव 3700 रुपये नगदी। विश्वनाथ उर्फ विष्णु पारधी पिता बालाभाऊ पारधी उम्र 30 वर्ष निवासी मुरादपुर थाना झागर जिला गुना के पास से 16 ग्राम सोना एवं 3600 रूपये नगदी। विजय पिता दौलत पारधी उम्र 40 वर्ष निवासी विलायतकला थाना बडवारा जिला कटनी के पास से 14 ग्राम सोना एवं 4800 रूपये नगदी बरामद हुए। इसके अलावा आठवें आरोपी संजय गोड पिता कृष्णपाल सिंह उम्र 28 वर्ष निवासी अंतरैला थाना मझौली जिला सीधी के पास से 13 किलो चांदी के जेवरात बरामद किये गये है।

डकैती को अंजाम देने में 13 थे शामिल

ईनामी आरोपी बूडा सिंह को गिरफ्तार कर पूछताछ की गई जिसने घटना को 13 बदमाशों द्वारा करना बताया। उसने सभी आरोपियों के नामों का खुलासा भी किया है। सभी आरोपी पारधी जाति के हैं जो प्रदेश के विभिन्न जगहों (अशोकनगर, रायसेन, भोपाल व उमरिया) तथा प्रदेश के बाहर महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश, राजस्थान से संबंधित हैं। सभी की तलाश हेतु पुलिस अधीक्षक सीधी के निर्देशन में टीमें गठित कर भेजी गई हैं।

बरामदगी का ब्यौरा

अभी तक मामले में लूटी गई संपत्ति में से कुल बरामदगी 13 किलो चांदी 200 ग्राम सोना एव 35000 रुपये नगदी विभिन्न जगहों से बरामद की गई है कुल बरामद की गई संपत्ति की कीमत 2000000 रुपये है।

गिरफ्तारी से राहत

इस सनसनीखेज घटना से व्यापारियों एवं क्षेत्रीय जनता में दहशत का महौल था तथा पुलिस के लिये यह बहुत बड़ा चैलेंज था। जिसका खुलासा करने हेतु पुलिस अधीक्षक सीधी द्वारा गठित टीमों के अधिकारी एसडीओपी कुसमी आरके शुक्ल, थाना प्रभारी मझौली सतीष मिश्रा, उप निरीक्षक राजेश पाण्डेय, उप निरीक्षक अभिषेक सिंह, उप निरीक्षक शिवम दुबे, उप निरीक्षक योगेश मिश्रा, उप निरीक्षक दीपक बघेल, उप निरीक्षक रिपुदमन सिहं, उप निरीक्षक राकेश सिंह, सायवर टीम निरीक्षक बीरेन्द्र पटेल, आर. प्रदीप एवं साथ गई पुलिस टीम की सक्रिय भूमिका रही।

जल्द ही गिरफ्तार होंगे शेष आरोपी: कुमावत

एसपी सीधी पंकज कुमावत का कहना है कि “इस मामले में अभी तक 8 आरोपियों को गिरफ्तार कर उनके पास उपलब्ध ज्वेलरी और नकदी बरामद की गई है। शेष बचे अन्य आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए विशेष प्रयास एवं टीमें सक्रिय हैं जिन्हें यथाशीघ्र ही सलाखों के पीछे पहुंचाते हुए उनसे इस कांड में लूटी गई ज्वेलरी और नकदी बरामद की जाएगी।”

Rohit Gupta

A journalist, writer, thinker, poet and social worker.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button