ज्वेलरी शॉप डकैती कांड: 36 घंटे बाद भी बदमाशों तक नहीं पहुंच सकी है पुलिस

डकैतों का सुराग लगाने में दिन-रात एक कर रही सीधी पुलिस

सिंगरौली/सीधी।
बीते शनिवार की देर रात लगभग 2 से 3 बजे के आसपास जिले के मझौली थाना क्षेत्र अंतर्गत मझौली नगर में ज्वेलरी शॉप में हुई डकैती को लेकर 36 घंटे बीत जाने के बाद भी अभी तक सीधी पुलिस के हाथ खाली हैं। उन्हें बड़ी सफलता नहीं मिल सकी है।

सीसीटीवी फुटेज

जिले के मझौली थाने से तकरीबन 1 किलोमीटर दूर गीता ज्वेलर्स में हुई डकैती की सनसनीखेज वारदात के उपरांत पूरे जिले की पुलिस के साथ-साथ संभाग स्तर पर अन्य जिलों की पुलिस भी इन डकैतों को पकड़ने के लिए दिन रात एक कर रही है। जिले के सभी थाना एवं चौकी प्रभारी चप्पे-चप्पे पर तैनात हैं। जगह-जगह छापेमारी कर डकैतों का पता लगानें की कोशिशें जारी हैं।

♦️समीपी जंगल में भी पुलिस सर्चिंग जारी

मझौली थाना अंतर्गत जंगलों में भी पुलिस के द्वारा सर्चिंग की जा रही है। साथ ही पुलिस के द्वारा कुछ संदेहियों को पकड़ा गया है। जिनसे पूंछतांछ की जा रही है। किंतु अभी तक उक्त डकैती का कोई सुराग नहीं लगा है।

घटना पर दृष्टि

जिले के तहसील मुख्यालय मझौली बाजार में संचालित गीता ज्वेलर्स प्रतिष्ठान में शनिवार की भोर में हथियारबंद नकाबपोश डकैत जिनकी संख्या एक दर्जन के लगभग बताते हैं द्वारा करोड़ों के जेवरातों एवं नकदी उठा ले गए।

वारदात को अंजाम देने से पूर्व हथियारबंद नकाबपोशों द्वारा देर रात दुकान में सो रहे सराफा व्यापारी मोहन सोनी के बेटे हार्दिक उर्फ सूरज को बेरहमी से पीट कर अधमरा कर दिया गया था। इस घटना से मझौली क्षेत्र सहित पूरे जिले में सनाका खिंच गया है।
घटना की जानकारी मिलते ही एसपी पंकज कुमावत, एएसपी सुश्री अंजूलता पटले सुबह ही मौके पर पहुंचे और विवेचना के कार्य को तेजी के साथ प्रारंभ कराया। उक्त घटना दुकान में लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो जाने से पुलिस को कई आरोपियों के फोटो मिल चुके हैं।

पीड़ित की तहरीर

घटना के बाद पीडित व्यवसाई द्वारा की गई रिपोर्ट में अज्ञात आरोपियों द्वारा ले जाए गए जेवरों में 2 किलो सोना, 30 किलो चांदी व 50 से 60 हजार रुपये नकद की डकैती की गई है। कुल मिलाकर लगभग 1करोड़ 60 हजार रुपये की डकैती बताई गई हैं।

घटना की जानकारी सामने आते ही पुलिस अधीक्षक द्वारा सीधी जिले की सीमा से लगे अन्य जिलों को भी डकैती की सूचना तत्परतापूर्वक देने के साथ ही कड़ी नाकेबंदी शुरू करा दी गई। मझौली से सटे जंगलों की भी कॉम्बिंग और कड़ी सर्चिंग की जा रही है।

प्रोफेशनल तरीके से दिया गया डकैती को अंजाम

सराफा व्यापारी के दुकान में हुई लगभग डेढ़ करोड़ से अधिक की डकैती को लेकर नगर में तरह-तरह की चर्चाएं सुनने को मिल रही हैं। लोगों का यह भी मानना है कि जिस तरीके से डकैती को अंजाम दिया गया है उससे अंदेशा है कि यह किसी बडे गैंग व पेशेवर अपराधियों के द्वारा की गई वारदात है। चर्चा यह भी है कि इस तरह की घटना के पूर्व अपराधी घटनास्थल की रेकी करते हैं तब घटना को अंजाम देते हैं। इसमें किसी स्थानीय व्यक्ति के शामिल होने का कयास भी लगाया जा रहा है। इस बात से इंकार नहीं किया जा सकता कि उक्त डकैती में स्थानीय बदमासों का रोल नहीं है। बहरहाल पुलिस अपनी थ्योरी पर गहन पड़ताल करने में जुटी है।

एसपी सीधी का कहना

सीधी एसपी पंकज कुमावत का इस डकैती कांड को लेकर कहना है कि कई टीमें गठित की गई हैं, सीमावर्ती जिले की पुलिस भी संपर्क में है और जगह-जगह छापेमारी की जा रही है। मझौली के आसपास के जंगलों में भी सर्चिंग जारी है। जल्द ही डकैती कांड के सभी आरोपी माल सहित पुलिस हिरासत में होंगे।

Rohit Gupta

A journalist, writer, thinker, poet and social worker.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button