ग्लोबल हैंडवॉश डे पर दिया स्वच्छता का संदेश

हिंडालको महान द्वारा सही ढंग से हाथ धोने हेतु किया गया जागरुक

singraulitimes.com
मध्य प्रदेश, सिंगरौली
ग्लोबल हैंड वॉश डे अर्थात हस्त प्रक्षालन दिवस के परिप्रेक्ष्य में हिंडालको महान द्वारा अक्टूबर माह को स्वच्छता माह के रूप में मनाया जाता है। इस माह महात्मा गांधी का जन्मदिन होता है और गांधी जी स्वच्छता अभियान की शुरुआत करने वाले पहले भारतीय क्रांतिकारी थे। हिंडालको महान ने इस दिवस के मौके पर शासकीय माध्यमिक विद्यालय बड़ोखर ,सरस्वती शिशु मन्दिर बरगंवा, शासकीय हाई स्कूल बड़ोखर ,शासकीय कन्या स्कूल बरगंवा में हाथ धोकर स्कूलों के बच्चो व आमजनों को स्वच्छता का संदेश दिया।

कार्यक्रम का संचालन करते हुये सी.एस.आर. विभाग से बीरेंद्र पाण्डेय ने बताया कि साफ-सफाई कोरोना व अन्य संक्रमण व बीमारियों से बचाव का एक सर्वोत्तम उपाय है। हमारे हाथों में न जाने कितनी अनदेखी गंदगी छिपी होती है, जो किसी भी वस्तु को छूने, उसका उपयोग करने और कई तरह के रोजमर्रा के कामों के कारण होती है। यह गंदगी हाथ न धोने पर और उसी हाथ से कुछ भी खाने पीने से शरीर में पहुंच जाती है और कई तरह की बीमारियों को जन्म देती है। इसलिए हमें अपने हाथों को नियमित अंतराल पर धोते रहना चाहिए।

विश्व हस्त प्रक्षालन दिवस के मौके पर हिंडालको महान के सी.एस.आर. विभाग द्वारा बालवाड़ी केंद्रों, शासकीय व अशासकीय स्कूल में अध्ययनरत बच्चों के साथ, ‘हाथ धोकर खाएंगे, अच्छे बच्चे कहलायेंगे’ कार्यक्रम का आयोजन कर हाथ धोने के सही तरीके बताए। हिंडालको महान के सी.एस.आर. विभाग द्वारा आयोजित कार्यक्रम में ऑपरेशन विभाग की महिला इंजीनियर अस्मिता प्रजापति, प्रांशी मिश्रा, सौम्या सिंह ने स्वच्छता प्रेरक बनकर बताया कि ,नाखूनों और हाथों की लकीरों में कीटाणु छिपे रहते हैं। अगर हाथों को अच्छी तरह से साफ नहीं करेंगे तो कीटाणु शरीर में चले जाएंगे और बिमारियां पैदा करेंगे। साथ ही स्कूल में बच्चों को हाथ धोने के लिये विभिन्न विद्यालयों को सी.एस.आर. विभाग द्वारा पोषित स्व सहायता समूह द्वारा निर्मित हैंडवाश का वितरण किया गया। कार्यक्रम को सफल बनाने में हिंडालको महान के सी.एस.आर. विभाग से अरविंद बैश्य, जियालाल, खलालू का विशेष योगदान रहा।

Rohit Gupta

A journalist, writer, thinker, poet and social worker.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button