मप्रः रीवा के पास बस-ट्रक की टक्कर में 15 लोगों की मौत

हैदराबाद से उप्र के गोरखपुर जा रही थी बस,प्रधानमंत्री मोदी, मुख्यमंत्री शिवराज और योगी आदित्यनाथ ने हादसे पर व्यक्त किया दुख

रीवा । मध्य प्रदेश के रीवा जिले में एक भीषण सड़क हादसे में 15 लोगों की मौत हो गई। यह हादसा जिला मुख्यालय से 70 किलोमीटर दूर सोहागी पहाड़ी पर शुक्रवार देर रात हुआ। यहां एक बस और ट्रक (ट्रेलर) के बीच जोरदार टक्कर हो गई। इस हादसे में करीब 40 लोग गंभीर रूप से घायल हुए हैं। स्थानीय लोगों की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और घायलों को अस्पताल पहुंचाया, जहां उनका उपचार जारी है। बस हैदराबाद से उत्तर प्रदेश के गोरखपुर जा रही थी। इसमें 55 से ज्यादा लोग सवार थे। मरने वालों में ज्यादातर लोग उत्तर प्रदेश के बताए जा रहे हैं। सभी मजदूर हैं, जो दीपावली मनाने के लिए अपने घर लौट रहे थे।

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार हैदराबाद से बस जबलपुर-रीवा के रास्ते गोरखपुर जा रही बस शुक्रवार की रात करीब 11.30 बजे राष्ट्रीय राजमार्ग-30 पर स्थित सोहागी पहाड़ पर उतरे समय हादसे का शिकार हो गई। प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार, बस की रफ्तार काफी तेज थी, जिसके चलते यह हादसा हुआ। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और घायलों को अस्पताल पहुंचाया। देर रात घायलों को देखने देर रात कलेक्टर मनोज पुष्प सहित पुलिस प्रशासन टीम सिविल अस्पताल त्यौंथर पहुंचे और घायलों का हाल जाना। उपस्थित चिकित्सकों को कलेक्टर ने हर संभव चिकित्सा उपलब्ध कराने की बात कही।

थाना प्रभारी ओंकार तिवारी ने बताया कि 12 लोगों की मौके पर, जबकि दो सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र त्योंथर तथा एक व्यक्ति की मौत संजय गांधी अस्पताल रीवा में हुई है। अन्य लोगों का उपचार जारी है। घायलों में 8 लोगों की हालत नाजुक बनी हुई है। बताया गया है कि बस में ज्यादातर लोग श्रमिक थे, जो दीपावली मनाने के लिए अपने घर लौट रहे थे। हादसे में मृतक और घायल सभी उत्तर प्रदेश और बिहार के रहने वाले बताए जा रहे हैं। रीवा जिला प्रशासन द्वारा हेल्पलाइन नंबर 8319706674 जारी किया गया है, यहां फोन कर घटना के संबंध में जानकारी ले सकते हैं।

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भी रीवा में हुए हादसे पर दुख जताते हुए प्रधानमंत्री रिलीफ फंड से मृतकों के परिजनों को 2-2 लाख रुपये और घायलों को 50-50 हजार रुपये देने की घोषणा की है। वहीं, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ट्वीट के माध्यम से दुख व्यक्त करते हुए कहा है कि मध्य प्रदेश के रीवा में सड़क दुर्घटना में हुई जनहानि अत्यंत दुःखद है। प्रभु श्रीराम से प्रार्थना है कि दिवंगत आत्माओं को अपने श्री चरणों में स्थान व घायलों को शीघ्र स्वास्थ्य लाभ प्रदान करें। मेरी संवेदनाएं शोक संतप्त परिजनों के साथ हैं।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट के माध्यम से कहा कि रीवा में हैदराबाद से गोरखपुर जा रही यात्री बस के दुर्घटनाग्रस्त होने का दुःखद समाचार प्राप्त हुआ था। इस अत्यंत हृदय विदारक घटना में दिवंगत आत्माओं के प्रति मैं श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं। मैं ईश्वर से घायलों के शीघ्र स्वस्थ होने की प्रार्थना करता हूँ। जिला कलेक्टर, एसपी सहित वरिष्ठ अधिकारियों की उपस्थिति में हमने पूरी रात रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया है। गंभीर रूप से घायल यात्रियों का रीवा मेडिकल कॉलेज में उपचार चल रहा है। इस पूरे दु:खद घटनाक्रम से यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी को भी अवगत कराया है।

उन्होंने कहा कि दुर्घटना में घायलों के उपचार का खर्चा मध्य प्रदेश सरकार वहन करेगी। मामूली रूप से घायल यात्रियों को प्रारंभिक उपचार के बाद बस द्वारा प्रयागराज रवाना कर दिया गया है। पार्थिव देह को ससम्मान प्रयागराज भेजा जा रहा है। इस दुःखद परिस्थिति में हम मृतकों के परिजनों के साथ खड़े हैं। प्रदेश निवासी दिवंगतों के परिजनों को 2-2 लाख रुपये व गंभीर घायलों को 50-50 हजार रुपये की सहायता राशि प्रदान करने हेतु निर्देश दिए हैं।

रीवा कलेक्टर मनोज पुष्य ने बताया कि ऐसा लगता है कि इस ट्रक का सामने वाले ट्रक से एक्सीडेंट हुआ था और जब चालक ने ब्रेक लगाया तो पीछे से आ रही बस ट्रक से टकराई। पुलिस-प्रशासन और स्थानीय लोग यहां हैं। बचाव कार्य किया गया। घायलों को अस्पताल भेजा गया है। उन्होंने कहा कि सभी घायलों का संजय गांधी हास्पिटल रीवा में नि:शुल्क उपचार किया जा रहा है। दुर्घटना में दिवंगतों की आत्मा को ईश्वर शांति प्रदान करें तथा उनके परिजनों को यह अपार दु:ख सहने की शक्ति दे। दु:ख की इस घड़ी में जिला प्रशासन रीवा उनके साथ है। दिवंगत के पार्थिव शरीर ससम्मान प्रयागराज भेजने की व्यवस्था की गई है।

उन्होंने बताया कि मरने वालों में ज्यादातर उत्तर प्रदेश के बलरामपुर के रहने वाले थे। अभी तक मात्र 2 शवों की शिनाख्त हो सकी है। वीडियो कॉल पर बलरामपुर के लोगों को शव दिखाकर पहचान की जा रही है। अभी तक जिनकी पहचान हुई है, उनमें राजू अंसारी (30) पुत्र मोहम्मद सफी निवासी उतसैला जिला बलरामपुर और मोहम्मद करीम उर्फ लल्लू (40) पुत्र मोहम्मद वसीम निवासी गांधीनगर, बलरामपुर शामिल हैं।

वहीं, घायलों के नाम माधुरी (30) पत्नी शुक्ला प्रसाद बाघौड़ीकोली महाराजगंज, शुक्ला प्रसाद (40), रघुवीर (25) पुत्र रामनरेश पिपई गोरखपुर, विक्रम (19) पुत्र राधेश्याम हैदराबाद, सोनल उदयभान केवट (29) सुल्तानपुर, सृष्टि (44) पत्नी प्रकाश थापर नेपाल, मनीष (22) रामजी महाराजगंज, सूरज (20) पुत्र सैयापुर बलराम, नीतेश (30) पुत्र भगवान बनगटिया, रामसूरत (45) पुत्र ननकू निषाद बस्ती करतान, भगवान दीन (42) बलरामपुर, राकेश (26) पुत्र बालकराम बलरामपुर, सुभाष चौधरी (38) पुत्र श्रीपत हैदराबाद, शिवप्रसाद (38) पुत्र चोवट हैदराबाद, संवत (23) पुत्र हरिंदर मुजफ्फरपुर, दिनेश (16) पुत्र राजेन्द्र यादव बलरामपुर, ऋषिकेश (32) पुत्र बीरबहादुर सिमराजात महाराष्ट्र, नरेश (31) पुत्र कालम नेपाल, रमेश (30) पुत्र भगवानदास गुप्ता बलरामपुर, हंसराज (24) पुत्र रामजीत, महाराजपुर, जितेन्द्र (35) पुत्र लालजी बस्ती, शेखर (16) पुत्र रामभरोसे महाराजगंज, दीपक (30) पुत्र अवध गुप्ता गोरखपुर, अटलभारती (25) पुत्र सोनू प्रसाद महाराजगंज, ओमप्रकाश (62) बस्ती, धारो (39) पुत्र यूनुष बलरामपुर, शिववरन (29) पुत्र रामपवन बलरामपुर, विजय बहादुर (35) रामकैलाश बलरामपुर, सतीष (30) पुत्र रामबाबू राजी जियाबाजार, अखिलेश (18) पुत्र भगन बस्ती, रियांश (4) पुत्र सतीष राजी जियाबाजार, शिवांगी (1) पुत्री सतीष चंद्र निवासी राज जियाबाजार और अमरनाथ (25) पुत्र रामबदन निवासी बस्ती शामिल हैं।(हि.स.)

Rohit Gupta

A journalist, writer, thinker, poet and social worker.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button