एनसीएल जयंत क्षेत्र की टीम ने स्व-विकसित टेल गेट प्रोटेक्शन सिस्टम का किया सफल परीक्षण

डंपर परिचालन हेतु खान सुरक्षा में महत्वपूर्ण होगा यह नवाचार

सिंगरौली, मध्यप्रदेश। भारत सरकार की मिनिरत्न कंपनी नॉर्दर्न कोलफील्ड्स लिमिटेड (एनसीएल) ने मंगलवार को जयंत स्थित बेस वर्कशॉप में डंपर में टेल गेट प्रोटेक्शन सिस्टम का सफल डेमो किया। पूरी तरह से जयंत क्षेत्र की बेस वर्कशॉप के संसाधनों से विकसित व निर्मित इस सिस्टम को एक 100 टन क्षमता के डंपर में लगाया गया और उसके बाद उसकी कार्य पद्धति को देखा गया।

NCL

इस अवसर पर एनसीएल के सभी क्षेत्रों के महाप्रबंधकगण, मुख्यालय से महाप्रबंधक (एस&आर), महाप्रबंधक (उत्खनन) एवं अन्य अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित रहे।

एनसीएल में 1200 भारी मशीनों में 500 बड़े डम्पर

एनसीएल में 1200 से अधिक भारी मशीनें में से 500 से अधिक संख्या उच्च क्षमता के डंपरों की है जो कि खदान में एक स्थान से दूसरे स्थान पर परिवहन का कार्य करते हैं। परिचालन के क्रम में कभी कभी ऐसी स्थिति उत्पन्न हो जाती है जब डंपर एक दूसरे के अत्यधिक निकट आ जाते हैं ओर एक डंपर का पीछे का भाग दूसरे डंपर के आगे के ओपरेटर केबिन को हानि पहुंचा देता है।

दुर्घटना से बचाव करेगा यह नवाचार

डंपर की डंप बॉडी पर लगाया गया स्वदेशी तरीके से एनसीएल द्वारा विकसित यह टक्कर रोधी उपकरण/टेल गेट प्रोटेक्सन सिस्टम दो डंपरों के नजदीक आ जाने पर भी ओपरेटर केबिन एवं ऑपरेटर को सुरक्षित रखेगा।

कं. प्रबंधन की ओर से बताया गया कि एनसीएल अपने कर्मियों की सुरक्षा के लिए पूर्णत: कटिबद्ध है एवं सुरक्षा मानकों व सेफ़्टी की दिशा में निरंतर नवाचारी प्रयोग करता रहता है।

Rohit Gupta

A journalist, writer, thinker, poet and social worker.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button