कथित हत्यारोपित को पुलिस ने दबोचा

अर्ध नग्न विक्षिप्त महिला को डायन समझ लाठियों से पीटकर की गई थी हत्या

सिंगरौली/सीधी। बीते गुरुवार को मध्यप्रदेश के सीधी जिले के कुशमी थाना क्षेत्र के पोड़ी पुलिस चौकी के ग्राम ददरी में एक बेसुुुध अचेत महिला नग्न अवस्था में मिली थी। उसे परिजनों द्वारा उपचार के लिए जनकपुर छत्तीसगढ़ ले जाया जा रहा था। लेकिन महिला ने रास्ते में ही दम तोड़ दिया था। मृतक महिला के परिजनों ने गांव के लोगों द्वारा महिला के साथ मारपीट करने का आरोप लगाया गया था।

परिजनों ने लगाया था मारपीट कर हत्या का आरोप

घटना के संबंध में परिजनों द्वारा मिली जानकारी के अनुसार सुखमंती सिंह पति नाहर सिंह उम्र 32 वर्ष निवासी ग्राम हरचोका थाना जनकपुर छत्तीसगढ़ पिछले 15 दिन से मानसिक तनाव से पीड़ित थी। इन दिनों वह अपने मायके ग्राम नागपोखर थाना कुशमी में ही रह रही थी। बताया गया कि मानसिक स्थिति ठीक नहीं होने के कारण उक्त महिला घर वालों की देखरेख में प्रतिबंधों में रखी जा रही थी। बताया गया है कि बीते 1 सितंबर को सायं लगभग 7 बजे घर के लोग अपने काम में व्यस्त थे उसी बीच वह घर से बाहर निकल गई। महिला के परिजनों ने बताया कि 2 सितंबर को सुबह लगभग 8 बजे गांव का ही रामबदन पठारी घर आया और बताया कि सुखमंती हमारे घर पास है, उसे ले आओ।
किन्तु जब हम लोग पहुंचे तो महिला नग्न अवस्था में औंधे मुंह जमीन पर अचेत अवस्था में पड़ी थी और पीठ पर नीले स्याह चोट के गहरे निशान मौजूद थे। सांसें चल रही थी।

परिजनों का कहना है कि यह देख महिला को उपचार के लिए जनकपुर छत्तीसगढ़ लेकर जा रहे थे। लेकिन महिला ने सुबह लगभग 11 बजे रास्ते में ही दम तोड़ दिया। परिजनों ने बताया कि महिला की मौत होने के बाद शव को रामबदन पठारी के घर के पास ले जाकर रख दिए और घटना की सूचना पुलिस चौकी पोड़ी में दी थी। सूचना उपरांत मौके पर पहुंची पुलिस द्वारा वाहन से शव को पोडी मर्चुरी में रखवाया गया था। जहां एक महिला चिकित्सक सहित तीन चिकित्सकों की टीम द्वारा शव का पोस्टमार्टम किया गया तदोपरांत परिजनों को अंतिम संस्कार के लिए सौंप दिया गया।

पुलिस कार्रवाई

पोड़ी पुलिस द्वारा मर्ग कायम कर मामले की विवेचना की गई। पीएम रिपोर्ट के आते ही कुसमी पुलिस के धारा 302 भा.द.वि. का मुकदमा कायम किया और अपराधी रामबदन सिंह पिता सोनसाय सिंह पठारी उम्र 51 वर्ष को कुसमी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया।

पुलिस की थ्योरी

पुलिस द्वारा बताया गया कि घटना के दिन महिला रात्रि में रामबमन सिंह के घर गई थी और घर के परिजनों ने जब अचानक रात में महिला को देखा तो भूत प्रेत का जिक्र किया ऐसे में रामबदन सिंह भी घर की ओसारी में पहुंचकर देखा तो महिला नग्न अवस्था में वहां खड़ी थी। अंधेरा होने के कारण आरोपी द्वारा महिला के ऊपर लाठी से वार किया गया जिससे महिला के पीठ पर काफी चोटें आई और उपचार के दौरान महिला की मौत हो गई।

क्या पूरी हो गई पुलिस विवेचना?

पुलिस ने भले ही इस मामले को बंद कर दिया हो, लेकिन ससुराल में एक ब्याहता की मानसिक विक्षिप्तता के कारणों की खोज अभी बाकी है।

Rohit Gupta

A journalist, writer, thinker, poet and social worker.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button