टोल प्लाजा में एसडीएम ने मारा छापा

अनियमितता और अवैध वसूली की थी शिकायत

सिंगरौली/सीधी। जिले के सीधी-रीवा मार्ग पर सोनवर्षा में स्थित टोल प्लाजा में एसडीएम गोपद बनास व जमोड़ी पुलिस द्वारा छापामार कार्रवाई की गई। यह कार्रवाई अनियमितता एवं अभद्रता की शिकायत पर की गई। समाजसेवी आदित्य सिंह द्वारा शिकायत की गई थी कि एनएचएआई कंपनी द्वारा रीवा-सीधी मार्ग एनएच 39 में संचालित टोल प्लाजा के कर्मचारियों द्वारा वाहन मालिकों के साथ अभद्र व्यवहार एवं अवैध वसूली की जाती है।

स्थानीय वाहनों से भी की जाती है उगाही

एसडीएम गोपद बनास नीलाम्बर मिश्रा, तहसीलदार लक्ष्मीकांत मिश्र व जमोड़ी थाना प्रभारी शेषमणि मिश्र पुलिस दल के साथ पहुंचे और छापामार कार्रवाई की। एमपीआरडीसी ने एनएचएआई को सोनवर्षा में टोल प्लाजा संचालित करने की अनुमति दी है। शिकायत की गई थी कि नियम व निर्देशों के तहत वाहनों से टोल वसूला जाना था। किंतु टोल कंपनी नियम के विरुद्ध प्लाजा का संचालन कर रही है। कंपनी के कर्मचारी वाहन मालिकों से न केवल अभद्र व्यवहार करते हैं बल्कि मारपीट करने से भी बाज नहीं आते। स्थानीय वाहन मालिकों को किसी प्रकार से कोई छूट प्रदान नहीं की जाती। जबकि टोल प्लाजा के 8 किलोमीटर के दायरे के वाहनों को टोल टैक्स से छूट देने का प्रावधान है। जबकि जबरन टोल टैक्स की वसूली करते हैं। टोल प्लाजा में हैंड मशीन से पर्ची काटी जाती है जिससे शासन के राजस्व में सेंध लग रही है। प्लाजा के कर्मचारी बिना वर्दी एवं बिना परिचय पत्र के रहते हैं और कोविड की गाईडलाईन का पालन भी नहीं किया जाता है। जन सुविधा केंद्र शौचालय में हमेशा ताला लगा रहता है। टोल कंपनी के द्वारा एंबुलेंस एवं क्रेन की कोई व्यवस्था नहीं की गई है।

इनका कहना है

रीवा-सीधी मार्ग सोनवर्षा में संचालित टोल के संबंध में जो शिकायत की गई थी जांच के दौरान वो सही पाई गई। मामले की गहराई से जांच की जा रही है। टोल कंपनी पर नियम प्रावधानों के तहत कार्यवाही की जाएगी।
नीलाम्बर मिश्रा
एसडीएम, गोपद बनास, सीधी

Rohit Gupta

A journalist, writer, thinker, poet and social worker.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button