सामान्य ज्ञान: कैप्स्यूल का कवर किस चीज से बनता है ?

अपनी जिज्ञासा को शांत करने के लिए पढ़ें यह लेख

दो तरह के होते हैं कैप्स्यूल-सॉफ्ट जेल व हार्ड शेल कैप्स्यूल

तथ्य:

सॉफ्ट जेल कैप्स्यूल नर्म होती है। हाथ से दबाएंगे तो दबने लगती है। जैसे विटामिन ए,डी,ई आदि की इनमें जेल भरा होता है और दवा इस जेल की परत के अंदर होती है। दूसरी, जिसे हार्ड जिलेटिन कैप्सूल।

इस कैप्सूल की बाहरी परत में लगने वाला मैटेरियल जिलेटिन होता हैं। जो कि एक तरह का प्रोटीन होता है। यह इंसानी शरीर में भी मिलता है और जानवरों में भी।

इस कैप्सूल की बाहरी परत में लगने वाला मैटेरियल जिलेटिन होता हैं। जो कि एक तरह का प्रोटीन होता है। यह इंसानी शरीर में भी मिलता है और जानवरों में भी।

प्लास्टिक से नहीं बनती कैप्स्यूल की खोल

कुछ लोग जिनको मेडिकल क्षेत्र का ज्ञान नही हैं उनका मानना है कि कैप्सूल का बाहरी हिस्सा प्लास्टिक से बना हुआ होता है। जबकि ऐसा नहीं है। बल्कि यह जानवरों और पौधों से निकाले गए बायोडिग्रेडेबल मैटेरियल (जो प्राकृतिक रूप से पुनः पृथ्‍वी में घुल-मिल जाए) से बना है।

बायो डीग्रेडेबल मैटेरियल का होता है उपयोग

उपरोक्त दोनों कैप्सूल जलीय सोल्युशन जैसे पशु प्रोटीन या पौधे के अर्क से बने हैं। पशु प्रोटीन का अर्क जो मुख्य रूप से जिलेटिन है, यह मवेशी, चिकन, सुअर और मछली की त्वचा, हड्डियों और शरीर के ऊत्तकों (tissue) से प्राप्त होता है। इसके अलावा कैप्सूल के बनाने के लिए इस्तेमाल किया जाने वाला मुख्य पौधा अर्क सेलूलोज़ (पौधे की कोशिका की दीवार में पाया जाने वाला) है।

कैप्सूल के पैकेट या डिब्बे पर उसमें मौजूद मेडिसिन कंटेंट की जानकारी तो होती है। लेकिन, ज्यादातर मामलों में कंपनियां आपको ये नहीं बतातीं कि कैप्सूल कवर जिलेटिन किस चीज से बना है।

तो अगली बार जब आप किसी भी बीमारी के लिए इन कैप्सूल का इस्तेमाल करें तो बताई गयी बातों पर ध्यान अवश्य दीजियेगा।

Rohit Gupta

A journalist, writer, thinker, poet and social worker.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button